रक्षा मंत्री राजनाथ बोले-मेरे मित्र अरुण जेटली के निधन से गहरा दुख हुआ

New Delhi : पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन हो गया है। उन्होंने दिल्ली के एम्स में अंतिम सांस ली। ANI ने इस खबर की पुष्टि की है। रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को उनका डायलिसिस किया गया था।

उनके निधन के बाद गृहमंत्री अमित शाह अपना हैदराबाद दौरा बीच में छोड़कर दिल्ली लौट रहे हैं। वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ ने कहा है कि मेरे मित्र अरुण जेटली के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है।

शुक्रवार को उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेने बीजेपी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उमा भारती एम्स पहुंची थीं। इससे पहले पीएम नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सहित कई वरिष्ठ नेता जेटली को देखने एम्स जा चुके हैं।

बता दें कि पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को सांस लेने में तकलीफ और बेचैनी की शिकायत के बाद नौ अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था। पिछले कुछ महीनों में वित्त मंत्री अरुण जेटली की सेहत लगातार गिर रही है। खराब सेहत की वजह से ही उन्होंने 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। इसी साल 14 मई को एम्स में जेटली के गुर्दे का प्रत्यारोपण किया गया था।

अरुण जेटली बीजेपी सरकार के पहले कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल का अहम चेहरा थे। इस दौरान जेटली ने वित्त एवं रक्षा दोनों मंत्रालयों का कार्यभार संभाला था।