सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष के वकील ने राम मंदिर का नक्शा फाड़ा, CJI नाराज

New Delhi :दशकों से चल रहा अयोध्या का रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद केस अब अपने अंतिम दौर में है। सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को इस विवाद पर आखिरी बहस हो रही है, आज दोनों ही पक्षों की ओर से अंतिम दलीलें रखी जाएंगी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने साफ कर दिया है कि सुनवाई बुधवार शाम पांच बजे खत्म हो जाएगी।

हिन्दू महासभा की तरफ से वरिष्ठ वकील विकास सिंह ने एक नक्शा किताब से दिखाया और कहा कि इस नक्शे में भगवान राम के जन्मस्थान का सही लोकेशन है, जो अब तक किसी ने कोर्ट को नहीं बताया। इस बात पर धवन ने विरोध किया और कहा ये बेकार की बाते हैं। मैं इस डाक्यूमेंट को नहीं मानता। इस पर सीजेआई ने कहा अगर आप नहीं मानते तो कोई बात नहीं। उन्होंने कहा विकास सिंह भी सिर्फ बयान दे रहे हैं। इसके बाद धवन ने वो नक्शा फाड़ दिया।

धवन के नक्शा फाड़ने पर सीजेआई रंजन गोगोई नाराज हो गए। उन्होंने धवन पर नाराजगी जताई और कहा कोर्ट रूम में इस तरह की रोकटोक होगी तो सुनना मुश्किल होगा।

SC का हर फैसला स्वीकारेंगे: इकबाल अंसारीइस मामले में पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट इस केस में जो भी फैसला करेगा, वो मानेंगे। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि फैसला जिसके भी पक्ष में आए, उसे मानना चाहिए। लोग शांति से सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करें। हम हमेशा से ही देश की तरक्की चाहते हैं।