DMK के पूर्व MLA के घर छापा, कमरे की संदूकों में मिले नोट ही नोट

New Delhi : देश में नोटबंदी के बाद पुराने नोट को रखना गैरकानूनी घोषित किया जा चुका है लेकिन कोयंबटूर में डीएमके के एक पूर्व विधायक एलनगो के बेटे आनंद  के घर भारी मात्रा में पुराने नोट बरामद हुए हैं। घर के सीक्रेट रूम में संदूक में पुराने नोट की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने छापेमारी की जिसमें 2 लाख 68 हजार रुपये के पुराने नोट और 667 पेपर के बंडल को बरामद किए गए हैं। पेपर के बंडल बिल्कुल पुराने नोट की तरह दिख रहे हैं।

पूर्व विधायक के बेटे के घर नकली नोट होने की सूचना मिलने के बाद चेन्नई में डीएसपी वेलुमुरगन के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने छापा मारा। हालांकि छापा मारे जाने के बाद पूर्व विधायक के बेटे ने सफाई देते हुए कहा कि जिस मकान में ये नोट पाए गए हैं उसे उन्होंने ढाई लाख रुपये प्रति महीने की दर से किराए पर दे रखा था।

पूर्व विधायक के बेटे ने नकली नोटों को लेकर बताया कि यह उनका नहीं है और उन्होंने मकान को रशीद, शेख और फिरोज नाम के शख्स को किराये पर दे रखा था। ये सभी लोग करूमपुकादेई के रहने वाले थे।

मकान के मालिक और पूर्व एमएलए के बेटे आनंद पर पांच सौ और एक हजार रुपये के इन पुराने नोटों को एक सीक्रेट रूम में छुपाकर रखने का भी आरोप है। पुलिस के मुताबिक इन नोटों को चलन में जो नए नोट हैं उनसे बदलने की तैयारी थी। पुलिस ने सीक्रेट रूम से नोट गिनने वाली मशीन, स्टैपलिंग मशीन और एक एयर गन भी बरामद किया है।

पुलिस के मुताबिक इन लोगों ने इलाके में यह भी अफवाह फैलाई थी कि दो लाख रुपये के पुराने नोट देने पर लोगों को एक लाख रुपये मूल्य के नए नोट मिलेंगे। ये अफवाह इस आधारहीन तथ्य को लेकर फैलाई गई थी कि केंद्र सरकार फिर से पुराने नोटों को चलन में ला सकती है।

पुलिस ने इस मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 109, 120 बी, 420, 489 (नकली मुद्रा का वास्तविक मुद्रा के रूप में उपयोग) के तहत मामला दर्ज किया है।