राहुल बोले- देश में भारी मंदी, सरकार गरीबों का पैसा उद्योगपतियों तक पहुंचाने का षडयंत्र रच रही है

New Delhi : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आर्थिक मंदी पर वीडियो सीरीज शुरू की है। ट्विटर पर पहला वीडियो शेयर करते हुये राहुल गांधी ने कहा – जो आर्थिक त्रासदी देश झेल रहा है, उस दुर्भाग्यपूर्ण सच्चाई की आज पुष्टि हो जाएगी। भारतीय अर्थव्यवस्था 40 वर्षों में पहली बार भारी मंदी में है। असत्याग्रही इसका दोष ईश्वर को दे रहे हैं। जबकि 2008 में ग्लोबल मंदी को हम मात दे चुके हैं। असंगठित क्षेत्र को मजबूती प्रदान करके इसको मात दिया जा सकता है, क्योंकि इसी क्षेत्र में देश के 90 फीसदी नौकरीपेशा लोग जुड़े हुये हैं।

राहुल गांधी ने कहा – केंद्र की मोदी सरका ने पिछले छह साल में सिर्फ असंगठित अर्थव्यस्था को ही निशाना बनाया है। वे असंगठित क्षेत्र के लोगों का पैसा किसी भी तरह से संगठित क्षेत्र के बड़े उद्योगपतियों को पहुंचाने के षडयंत्र में शामिल हैं। नोटबंदी, गलत जीएसटी और लॉकडाउन इसके 3 बड़े उदाहरण हैं। राहुल गांधी पहले भी कई बार कह चुके हैं कि लॉकडाउन फेल हो गया। ना तो कोरोना रुका और ना ही इकोनॉमी बच पाई। उन्होंने हाल ही में सरकार को चेतावनी देते हुए कहा था कि कोरोना संक्रमण के चलते देश को इतना आर्थिक नुकसान हो रहा है कि अगले 5-6 महीनों तक सरकार युवाओं को रोजगार नहीं दे पायेगी।
राहु गांधी ने कहा- एक बात समझनी होगी कि हिंदुस्तान को 90 फीसदी रोजगार असंगठित अर्थव्यवस्था देती है। ये लोग कौन हैं? ये छोटे, मध्यम बिजनेस वाले हैं, किसान हैं। इस सिस्टम को नरेंद्र मोदी ने खत्म कर दिया। आप देखियेगा कि जैसे ही लोन मोरेटोरियम पीरियड खत्म होगा, एक के बाद एक कंपनियां बंद होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− one = one