राहुल गांधी लिखा फेसबुक पोस्ट, लोकतंत्र सबसे बड़ी ताकत, हमें किसी भी कीमत पर करना होगा बचाव

New Delhi: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकतंत्र, देश की संसद और उसकी कार्यवाही को लेकर एक फेसबुक पोस्ट लिखा है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र हमारी सबसे बड़ी ताकत है। हमें किसी भी कीमत पर इसका बचाव करना चाहिए।  राहुल गांधी ने लोकतंत्र, देश की संसद और उसकी कार्यवाही को लेकर एक फेसबुक पोस्ट लिखा है। कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि एक दिन मैंने संसद की दर्शक दीर्घा में अफगानिस्तान के दो सांसदों को बैठे हुए देखा, और मैं उन्हें देखते हुए यह सोच रहा था कि दोनों सांसद बाहर देश से आए हैं, और देखो हम क्या कर रहे हैं। हम चिल्ला रहे हैं। जब तक ये दोनों सांसद यहां है, क्यों न हम संसद की कार्यवाही को ठीक चलाएं।

राहुल गांधी ने अपने पोस्ट में आगे लिखा कि बाद में दोनों सांसद मेरे दफ्तर में मुझसे मिलने पहुंचे। मैंने उनसे कहा, मैं माफी चाहूंगा जब आप संसद की दर्शक दीर्घा में बैठे थे उस वक्त हम अच्छी हबस नहीं कर रहे थे। राहुल गांधी ने कहा कि जैसे ही मैंने यह बात की दोनों में से एक सांसद रोने लगे। मैं अचंभित था। मैंने उनसे पूछा, क्या हुआ? सांसद ने जवाब दिया, मिस्टर गांधी आप लोग जैसे संसद में बहस कर रहे थे हमारे यहां इस तरही बहस बंदूकों के साये में हुआ करती है।

 facebook post

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे लिखा कि लोकतंत्र हमारी सबसे बड़ी ताकत है। हमें किसी भी कीमत पर इसका बचाव करना चाहिए। वहीं बात करें चुनावों की तो आगामी लोकसभा चुनाव के लिए एक तरफ जहां गठबंधन मजबूत हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 19 जनवरी को कोलकाता में होने वाली ममता बनर्जी की रैली में शामिल नहीं होने का फैसला किया है।

टीएमसी प्रमुख की इस रैली के लिए सभी विपक्षी पार्टियों को न्यौता भेजा गया है. इस रैली में कांग्रेस की तरफ से वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल होंगे। इस रैली को विपक्ष के शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है। ममता ने इस रैली के लिए यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी आमंत्रित किया है, हालांकि करीब एक महीने तक इंतजार करवाने के बाद उन्होंने भी रैली में शामिल होने में असमर्थता जाहिर कर दी है। वहीं मायावती ने अभी तक ममता बनर्जी के निमंत्रण का जवाब नहीं दिया है।