मेघालय कोयला खदान: राहुल ने कहा-फोटो खिंचवाने के बजाय मजदूरों की जान बचाने की कोशिश करें पीएम

New Delhi: मेघालय कोयला खदान हादसे को एक हफ्ते से अधिक हो गया है। लेकिन अभी भी खदान में फंसे 13 मजदूरों का कुछ पता नहीं चल सका है। इस घटना पर दुःख जताते हुए अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला किया है। राहुल ने ट्वीट कर कहा कि, एक मजदूर खदान में सांस लेने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। वहीं पीएम मोदी बोगिबिल पुल पर फोटो खिंचवाने।

 

कोयला खदान में फंसे मजदूरों को लेकर राहुल का पीएम मोदी पर हमला

Coal mine meghalaya

जाहिर है पिछले दिनों मेघालय की एक कोयला खदान में जमीन धंसने से 15 मजदूर उसमे फंस गए थे। इस हादसे के 10 दिनों से अधिक बीत जाने के बाद भी अभी तक रेस्क्यू टीम मजदूरों को बाहर नहीं निकाल सकी है। इस मामले को लेकर अब राहुल गांधी ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर हमला बोला है। राहुल ने कहा, ‘पानी से भरी कोयले की खदान में पिछले दो हफ्ते से 15 खनिक सांस लेने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इस बीच, प्रधानमंत्री बोगिबील सेतु पर कैमरों के सामने पोज़ देते हुए तस्वीरें खिंचवा रहे हैं। उनकी सरकार ने बचाव के लिए हाई प्रेशर वाले पंपों की व्यवस्था करने से इनकार कर दिया.’ जाहिर है इस खदान में रेस्क्यू कर रही ,एनडीआरएफ की टीम ने भी कहा था कि, यह बहुत ही संघर्षपूर्ण और चेतावनी वाला अभियान है।

एक हफ्ते बाद भी मजदूरों का कोई पता नहीं, अभियान काफी चुनौतीपूर्ण

मेघालय की कोयला खदान में हुआ हादसा काफी दिल दहला देने वाला था। इस हादसे के एक हफ्ते बीत चुके हैं, लेकिन अभी भी रेस्क्यू जारी है। एनडीआरएफ के कमांडेंट एसके शास्त्री ने कहा, ‘यह इतिहास का सबसे चुनौतीपूर्ण अभियान है। हमारे गोताखोर इस तरह की परिस्थिति के लिए प्रशिक्षित नहीं हैं। घटना को लेकर हमारे पास मौजूद सूचना पर्याप्त नहीं है। यह खदान बहुत गहरी है और भारी मात्रा में पानी इसमें भरता जा रहा है।’ आपको बता दें कि,  अवैध कोयला खदान 12 दिसंबर को धंस गई थी। जिसके बाद से खदान में फंसे मजदूरों को निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीम मौजूद है लेकिन अभी भी कोई उपाय नहीं निकाला जा सका है।