राहुल गांधी का कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा, कहा कांग्रेस के लिए काम करना गर्व की बात

New Delhi: राहुल गांधी ने आज कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। राहुल गांधी ने इस्तीफे की चिठ्ठी ट्विट की। उन्होंने अपने चिठ्ठी में लिखा कि 2018 में हार कि जिम्मेदारी मेरी है इसलिए मैंने इस्तीफा दे दिया। पार्टी को खड़ा करने के लिए कई कड़े फैसले लेने होंगे। राहुल गांधी ने यह अपने चिठ्ठी में यह भी कहा है कि वह अगले अध्यक्ष का नाम नहीं सुझाएंगे।

उन्होंने कहा कि मेरे लिए कांग्रेस पार्टी की सेवा करना एक सम्मान की बात है, जिनके मूल्यों और आदर्शों ने हमारे सुंदर राष्ट्र की जीवनदायिनी के रूप में सेवा की है। मैं देश और अपने संगठन को बहुत आभार और प्यार व्यक्त करता हूं।

बता दें कि आम-चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद ही राहुल ने अपने इस्तीफे का एलान कर दिया था। पार्टी के लोगों द्वारा समझाने के बाद भी राहुल अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की अपनी बात पर अड़े हुए थे। राहुल ने आम-चुनाव में मिली हार का सारा ठिकरा अपने ऊपर फोड़ा था।

राहुल ने जब ये कहा कि उनकी पार्टी के किसी भी मेंबर ने हार स्वीकार नहीं की, इस्तीफा नहीं दिया । इसके बाद इस्तीफा देने वालों की लड़ी लग गई। कांग्रेस के कई कार्यकर्ता अपना इस्तीफा देकर ‘राहुल हम तुम्हारे साथ है’ ये नारे लगाने लगे। कार्यकर्ताओं ने कुछ दिनों तक अनशन भी किया, राहुल गाँधी के आवास पर नारेबाजी भी की जिससे राहुल को मनाया जा सकें। इसके बाद भी राहुल नहीं माने और अपनी जिद पर अड़े रहे।