बाघिन ‘अवनी’ मामले पर राहुल ने उठाये सवाल,क्या भारत में ऐसे ही होता हैं जानवरों के साथ व्यवहार ?

New Delhi: Maharashtra में बाघिन ‘अवनी’ के मारे जाने के मामले ने अब राजनीति तूल पकड़ लिया है। इस पर अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का बयान सामने आया है। Rahul Gandhi ने बाघिन ‘अवनी’ के मामले को लेकर एक ट्वीट किया। राहुल गांधी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का एक संदेश ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि किसी देश की महानता की पहचान इस बात से की जा सकती है कि वहां जानवरों के प्रति कैसा व्यवहार किया जाता है।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के यवतमाल जिले के पांढरकवड़ा के वन क्षेत्र में बाघिन अवनि को शुक्रवार देर रात मार दिया गया। उसे आदमखोर घोषित कर दिया गया था क्योंकि उसने 14 लोगों को अपना शिकार बनाया था। उसे खत्म करने के लिए 200 लोगों की टीम लगाई गई थी। इस सितंबर महीने में हाई कोर्ट ने कहा था कि उसे गोली मारी जा सकती है, जिसके बाद लोगों ने उसे माफी देने की ऑनलाइन कैंपेन #Justice4TigressAvni शुरू किया था।

मामले को लेकर पुलिस अधिकारियों का कहना हैं कि आधिकारिक रूप से इस बाघिन को शुक्रवार रात मार दिया गया। यह काम शार्प शूटर असगर अली ने किया। आपको बता दें कि असगर मशहूर शार्पशूटर शफत अली के बेटे हैं। बताया जा रहा हैं कि इस नरभक्षी बाघिन को रालेगांव थाने की सीमा में पड़ने वाले बोराती जंगल में घेर लिया गया था। लोगों की मानें तो बीते दो सालों में अवनि ने पंधरकांवड़ा जंगल में 13 लोगों का शिकार कर लिया था।

इस मामले को लेकर सितम्बर महीने में हाईकोर्ट ने कहा था कि उसे गोली मारी जा सकती है। इसके बाद उसे माफी देने की ऑनलाइन याचिकाओं की बाढ़ आ गई थी। इस बाघिन को नवीनतम तकनीक की मदद से पकड़ने के लिए तीन महीने से ज्यादा समय लगा। अधिकारियों ने बताया, दूसरी बाघिन के मूत्र और अमेरिकी इत्र को इलाके में छिड़का गया, जिसे सूंघते हुये अवनि वहां आ पहुंची। उन्होंने कहा कि वन अधिकारियों ने पहले उसे जिंदा पकड़ने का प्रयास किया, पर घना जंगल और अंधेरा होने की वजह से ऐसा नहीं हो सका, आखिरकार एक गोली दागी गई और बाघिन ढेर हो गई।