राहुल गांधी का बयान, PM मोदी कहते हैं कि वह हिंदू हैं लेकिन उनको हिंदुत्व का नहीं हैं कोई ज्ञान

New Delhi: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आज उदयपुर दौरे पर हैं। अपने दौरे पर राहुल गांधी आरसीए कॉलेज के सभागार में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान उन्होंने डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, एंटरप्रिन्योर, आईटी एक्सपर्ट समेत कई क्षेत्रों के 400 से ज्यादा लोगों से बातचीत की। कार्यक्रम में संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह काल्पनिक बात हैं कि प्राइवेट सेक्टर के शिक्षण संस्थान बेहतर है। हमारा साफ मानना हैं कि सरकारी संस्थानों और हेल्थकेयर के बिना हम देश को नहीं चला सकते हैं।

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या आपको पता है कि नरेंद्र मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक की तरह मनमोहन सिंह ने भी 3 बार सर्जिकल स्ट्राइक की थी? जब सेना मनमोहन सिंह के पास आई और कहा कि हमें पाकिस्तान को उसकी हरकत के लिए जवाब देना होगा, इन सर्जिकल स्ट्राइक को सीक्रेट रखा गया था।

Rahul Gandhi

अपने संबोधन में राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी आर्मी के कार्यक्षेत्र में घुसे और सर्जिकल स्ट्राइक को नाम दिया। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को पॉलिटिकल एसेट बना दिया, जबकि यह आर्मी का फैसला था। राहुल ने आगे कहा कि पीएम को लगता है कि सैन्य क्षेत्र में वह सेना से ज्यादा जानकारी रखते हैं, विदेश मंत्री से ज्यादा विदेश मंत्रालय को जानते हैं। उन्हें लगता है कि वह कषि मंत्री से ज्यादा कृषि क्षेत्र के बारे में जानते हैं। उन्हें लगता है कि सारी जानकारी उनके दिमाग से ही आती है।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर वार करते हुए कहा कि हिंदू धर्म का सार क्या है? गीता में क्या गया है? ज्ञान हर जगह है, ज्ञान आपके हर तरफ है। हर कोई जिसमें जान है, उसके पास ज्ञान है। हमारे पीएम कहते हैं कि वह हिंदू हैं, लेकिन हिंदू धर्म का मतलब नहीं समझते हैं। वो किस तरह के हिंदू हैं ?। आपको बता दें कि राहुल गांधी का मेवाड़ में यह दूसरा दौरा हैं। इससे पहले राहुल गांधी सितम्बर में डूंगरपुर के सागवाड़ा आए थे।

आपको बता दें कि कार्यक्रम के बाद वह भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और हनुमानगढ़ में आम सभा करेंगे। बताया जा रहा है कि सभा में कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अविनाथ पांडे, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. सीपी जोशी भी जनसभा को संबोधित करेंगे। इनके अलावा, जिले के सातों विधानसभा के प्रत्याशी भी मंच पर मौजूद रहेंगे।