अमृतसर ब्लास्ट में बड़ा खुलासा,CM ने जारी की आंतकी की फोटो, कहा- हमले के पीछे ISI का हाथ

NEW DELHI: अमृतसर के निरंकारी भवन में आतंकी हमले को लेकर कई खुलासे हुए हैं। Punjab Captain Amarinder Singh ने अमृतसर ब्लास्ट मामले में press conference की। इस दौरान अमरिन्दर सिंह ने कहा कि DGP के नेतृत्व में हमारी पुलिस ने 1 आरोपी को गिरफ्तार किया है। उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया है। अमरिन्दर सिंह ने अमृतसर ब्लास्ट के आरोपियों की फोटो भी जारी की। सीएम ने बताया कि पुलिस ने दोनों आरोपियों की पहचान कर ली है।

 amritsar attack

यही नहीं पंजाब के CM कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने अमृतसर ब्लास्ट मामले में पाकिस्तान का हाथ होने का सबूत मीडिया को भी दिखाया। उन्होंने साफ किया कि इसमें कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं है, यह स्पष्ट तौर पर एक आतंकी हमला है। इस हमले के पीछे पाकिस्तान और ISI का हाथ है। आपको बता दें कि 19 नवंबर को हरियाणा के पानीपत में समालखा स्थित निरंकारी भवन में ग्रेनेड से हमला किया गया।

जानकारी के मुताबिक, अमृतसर के राजासांसी गांव स्थित निरंकारी भवन का हैं, जहां बाइक पर सवार कुछ लोगों ने निरंकारी भवन में बम फेंका जिसके बाद वहां जोरदार धमाका हुआ। धमाके में 3 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग घायल हो गए। मामले को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि इस घटना को हम काफी गंभीरता से ले रहे हैं। जांच चल रही है, हमारे पास कुछ लीड है।

हमले में मृत और घायलों को लेकर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुआवजे का ऐलान किया। कैप्टन अमरिंदर सिं ने कहा कि सभी पीड़ितों को 5 लाख का मुआवजा और नौकरियां दी जाएंगी जबकि घायलों को 50 हजार का मुआवजा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह हमले का मामला साफ तौर पर आतंकी हमले का मामला है। आपको बता दें कि हमलावरों के सुराग देने वालों को अमरिंदर सरकार 50 लाख रूपए का इनाम देगी। गौरतलब है कि सुरक्षा एजेंसियों ने पंजाब समेत दिल्ली में आंतकी हमले की पहली ही आशंका जता चुकी है।