पंजाब की जनता से किए सभी वादे हम पूरा करेंगे : अमरिंदर सिंह

New Delhi: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष के साथ सकारात्मक बैठक हुई। उन्होंने जनता से किये गए 161 वादों में से 140 को लागू करने में मेरी सरकार की सफलता की सराहना की। हमारी सरकार का आधा कार्यकाल पूरा हो चूका है। हम भले ही कुछ वादे अभी तक पूरा न कर पाए हों लेकिन कार्यकाल के अंत तक सभी को पूरा कर देंगे।

कांग्रेस शासित राज्यों में मुख्यमंत्रियों और वहां के पार्टी नेताओं की सोनिया गांधी ने अपने आवास पर एक बैठक बुलाई थीं। बैठक में क्या हुआ के सवाल पर राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा – कांग्रेस शासित सभी राज्य सरकारें क्या कर रही हैं और लोगों के लिए क्या किया जा रहा है, इस पर विस्तृत चर्चा हुई। सचिन ने यह भी कहा कि वर्षों से पार्टी के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं की भागीदारी को कैसे बढ़ाया जाए इस पर भी चर्चा हुई।

शुक्रवार को मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत पार्टी के वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के आवास पर बैठक के लिए पहुंचे।

आपको बता दें कि अंतरिम अध्यक्ष बनने के बाद सोनिया गांधी पार्टी को मजबूत करने के लिए लगातार बैठकें कर रही है। कांग्रेस के लिए तमाम राज्यों से जिस तरह से लगातार अंतर्कलह, मतभेद और गुटबाजी की खबरें आ रही थीं, उस पृष्ठभूमि में यह बैठक अहम थी। सोनिया गांधी इससे पहले अपने मुख्यमंत्रियों को निर्देशित कर चुकी हैं कि जनहित के लिए ज्यादा काम कीजिये नहीं तो जनता का विश्वास पार्टी के ऊपर से उठ जाएगा।

गुरुवार को भी एक बैठक हुई। इस बैठक में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर मेगा इवेंट की तैयारी सदस्यता अभियान , देश की अर्थव्यवस्था समेत कई मुद्दों पर चर्चा हुई। सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष बनने के बाद यह पहली बैठक थी। कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह और वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने महासचिवों, राज्यों के प्रभार, पीसीसी अध्यक्षों और सीएलपी नेताओं को संबोधित किया।

इस दौरान कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कहा कि हम आर्थिक मंदी के मुद्दे पर 15-25 अक्टूबर से देश भर में बड़े पैमाने पर आंदोलन करेंगे। हमने 28-30 सितंबर से आर्थिक मंदी पर राज्य स्तरीय कांग्रेस कमेटी के प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन करने का फैसला किया है।