वकीलों का ऐलान-कोई नहीं ल’ड़ेगा गैंगरे’प के आरो’पियों की तरफ से केस,बोले-फां’सी पर ल’टकाओ

New Delhi : तेलंगाना के रंगा रेड्‌डी जिले में 26 वर्षीय वेटरनरी डॉक्टर की दु’ष्क’र्म के बाद ह’त्या से देशभर में आ’क्रोश है। शनिवार को हैदराबाद के शादनगर थाने के बाहर लोगों ने प्रदर्शन किया।

लोगों ने आरो’पियों को बिना किसी सुनवाई के फां’सी पर च’ढ़ाने या उनका एनका’उंटर करने की मांग की। इस बीच, स्थानीय बार एसोसिएशन ने आरो’पियों की पैरवी से इनकार कर दिया।

महिला डॉक्टर से दरिं’दगी का मामला शुक्रवार को देशभर में सुर्खियों में आया। इसके बाद साइबराबाद पुलिस ने चार आरो’पियों, मोहम्मद अरीफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु को गिर’फ्तार किया।

आरिफ की उम्र 26 साल है, जबकि बाकी आरो’पियों की उम्र 20 साल है। सभी की गिर’फ्तारी नारायणपेट जिले से हुई। ये सभी ट्रक ड्राइवर और क्लीनर हैं, जिन्होंने श’राब पीने के बाद 7 घंटे तक डॉक्टर के साथ दरिं’दगी की थी।

शादनगर के स्थानीय कोर्ट से संबंधित बार एसोसिएशन ने घ’टना के चारों आरो’पियों का केस ल’ड़ने से इनकार कर दिया है। बार एसोशिएसन ने कहा- कोई भी वकील अदालत में चारों आरो’पियों की पैरवी करने नहीं जाएगा और उन्हें कानूनी सहायता भी उपलब्ध नहीं कराई जाएगी। दु’ष्कर्म और ह’त्या के आरो’पियों को महबूबनगर के फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया गया।