संत रविदास मंदिर पहुंचीं प्रियंका गांधी, पूजा की और लंगर खाया

New Delhi : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को वाराणसी में संत रविदास जयंती के कार्यक्रम में शामिल हुईं. प्रियंकागांधी रविदास जयंती पर उनके जन्मस्थली सीर गोबर्धनपुर पहुंचीं. यहां पर उन्होंने मत्था टेका और आशीर्वाद लिया.

प्रियंका गांधी ने देशविदेश के कोने कोने से आये हज़ारों श्रद्धालुओं के बीच सतसंगत में रहीं और यहां पर उन्होंने अपने विचार रखे. रियंका गांधी ने कहा कि संत रविदास की जयंती पर उन्हें उनके जन्म स्थान की चौखट पर उन्हें मत्था टेकने का मौका मिला है. यह उनकासौभाग्य है. सदगुरु कबीरदास और सदगुरु रविदास ने हम सबको अपनी वाणी और सन्देश से हर एक इंसान को बराबर, भाईचारे औरमेहनत की इज्जत करने की शिक्षा दी

प्रियंका के इस दौरे को गैरराजनीतिक बताया जा रहा है, लेकिन राजनीति के जानकार मान रहे हैं कि वह कांग्रेस के जनाधार को मजबूतकरने की कोशिश कर रही हैं. इस दौरान सीर में उन्होंने संत निरंजन दास का आशीर्वाद लिया और लंगर और प्रसाद भी ग्रहण किया.

10 जनवरी को प्रियंका गांधी बनारस के राजघाट स्थित संत रविदास मंदिर में दर्शन करने पहुंची थीं. वहां से वह नाव से वह पंचगंगा घाटस्थित श्रीमठ गई थीं. प्रियंका काशी विश्वनाथ मंदिर भी गई थीं. यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बताया कि प्रियंका की बहुतदिनों से इच्छा थी किवह संत शिरोमणि गुरु रविदास की जन्मस्थली सीर में मत्था टेकें.