शाहरुख से लेकर अंबानी तक सब इनके पान के हैं दीवाने, पान बेचकर खड़ा कर लिया करोड़ों का कारोबार

New Delhi: ये हैं यश टेकवानी..जो दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में पान शॉप चलाते हैं। सिर्फ ये नहीं इनका पूरा परिवार इनके इस बिजनेस में लगा हुआ है। पान बेचकर इस परिवार ने करोड़ों का बिजनेस खड़ा कर लिया है।  इनकी दुकान में बना पान खाने वालों में अमिताभ से लेकर बॉलीवुड के तीनों खान शामिल हैं। इसके अलावा अंबानी से लेकर कई बड़े कारोबारी भी इनके पान के दीवाने हैं।

पान तो आप सभी खाते ही होंगे, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे पान के बारे में बता रहे हैं जो स्वाद में लाजवाब है। इस पान के दीवाने बड़े से बड़े बिजनेसमैन और एक्टर भी हैं। चलिए अब आपको बताते हैं इस पान की खासियत।  अगर गले में सोने की मोटी चेन, उंगलियों में सोने की बड़ी-बड़ी अंगूठिया और सूट-बूट पहनने वाले एक शख्स अगर आपको पान बेचता हुआ दिख जाए तो हैरान होना लाजमी है। यहां भी कुछ ऐसा ही हुआ, इन्हें जो देखते हैरान हो जाता। इन्होंने पान बेचकर करोड़ों की कंपनी खड़ी कर ली।

टेकवानी ने अपनी पान की दुकान पर कई बॉलीवुड हस्तियों और बड़े-बड़े व्‍यवसाइयों के साथ तस्‍वीरें लगा रखी है। लोग पान खाते-खाते उन तस्‍वीरों को देखते हैं और बाते करते हैं।  टेकवानी कहते हैं कि हमारे परिवार ने यह साबित कर दिया है कि पान बेचना कोई छोटा व्‍यापार नहीं है। पान के पत्ते पर कुछ मसाले और चटनी-सौंफ डालना ही पान बनाना नहीं है।  हम अपनी गुणवत्ता और ग्राहकों के लिए जाने जाते हैं।

तस्‍वीरों में टेकवानी को अमिताभ बच्‍चन, श्री देवी, अक्षय कुमार, शाहरुख खान और लता मंगेशकर को पान खिलाते देखा जा सकता है। टेकवानी एक तस्‍वीर में अंबानी परिवार को भी पान खिलाते देखे जा सकते हैं। टेकवानी का कहना है कि ये सभी उनके ग्राहक हैं। इतना ही नहीं दिल्‍ली के हर बड़े कारोबारी घराने से रोज पान का ऑर्डर आता है। इतना ही नहीं टेकवानी की कई तस्‍वीरें कपूर खानदान के साथ भी हैं।

इन्होंने पान की दुकान की तस्‍वीर को बदलकर रख दिया है।  हालांकि यह दुकान उन्हें विरासत में मिली है। प्रिंस पान कॉर्नर के 9 चेन हैं जिनमें से 2 थाईलैंड में हैं। टेकवानी का कहना है कि वह केवल अपने पिता की विरासत को आगे ले जा रहे हैं जिन्‍होंने कड़ी मेहनत से 1965 में इस दुकान की स्‍थापना की थी। इस दुकान में जो सबसे महंगा पान है वो है वर-वधू जोड़ा और हनीमून पान। इसमें कामोत्तजक गुणों के साथ जड़ी बूटियों का भी इस्‍तेमाल किया जाता है। हालांकि इन दिनों जलता हुआ पान (फायर पान) खाने का ट्रेंड है। आपको बता दें कि खाने से पहले इस पान में मौजूद लौंग को जलाया जाता है जिससे आग की लपटे उठती है। खिलाने का कला ऐसा होता है कि मुंह में जाते ही आग बुझ जाती है।

टेकवानी अपनी दुकान पर दो दर्जन से ज्‍यादा पानों के वेरायटी सर्व करते हैं। इनमें चॉकलेट पान, कैटरीना पान और करीना पान काफी खास हैं। कैटरीना स्‍पेशल पान में कत्था-चूना नहीं होता। वहीं करीना स्‍पेशल पान में सिर्फ मिंट होता है। टेकवानी का कहना है कि ये दोनों पान खासकर औरतों के लिए हैं। टेकवानी ने बताया कि कैटरीना और करीना पान को एक खास तरह के डिब्‍बे में पैक कर दिया जाता है जिसपर दुकान की स्‍टीकर लगी होती है। यहां पान की कीमत 30 रुपए से लेकर शुरू होकर 1001 रुपए तक है।

टेकवानी के पिता भगवान दास विभाजन के बाद पाकिस्‍तान से भारत आए थे। पान की दुकान खोलने से पहले उन्‍होंने यहां कूली, पकोड़ा बेचने तक का काम किया। इतना ही नहीं परिवार की स्थिति ऐसी थी कि टेकवानी की मां को घरों में बतौर नौकरानी काम करती थीं। ग्राहकों के लिए पान बनाते-बनाते टेकवानी उन पलों को याद कर भावुक हो जाते हैं। अपनी दुकान की सफलता के पीछे का रहस्य बताते हुए टेकवानी कहते हैं कि इसमें उनके पिता का इजा़द किया हुआ नुस्खा है जिसने पान में अपनी बेदाग छवि छोड़ दी।

 

 

The post शाहरुख से लेकर अंबानी तक सब इनके पान के हैं दीवाने, पान बेचकर खड़ा कर लिया करोड़ों का कारोबार appeared first on Live India Online.