प्रधानमंत्री मोदी ने देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों के साथ की बैठक, देश में रोजगार सृजन को बढ़ावा देने पर रहा जोर

New Delhi: केंद्रीय बजट से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नई दिल्ली में प्रमुख अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक की, जिसमें देश की व्यापक आर्थिक स्थिति की समीक्षा की और विकास और रोजगार सृजन को बढ़ावा देने के लिए आर्थिक नीति के रोडमैप पर विचार-विमर्श किया। यह बैठक “आर्थिक नीति – द रोड अहेड” विषय पर NITI Aayog द्वारा आयोजित किया गया था


यह बैठक सरकारी नीति थिंक-टैंक NITI Aayog द्वारा आयोजित की गई थी, जिसमें विभिन्न मंत्री, NITI Aayog के पदाधिकारी, प्रमुख अर्थशास्त्री, क्षेत्रीय विशेषज्ञ और उद्योगपति शामिल हुए। रिपोर्ट के अनुसार, अर्थशास्त्री और विशेषज्ञ पीएम मोदी के सामने महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सरकार के सामने मौजूद चुनौतियों के बारे में प्रस्तुतिकरण दिया और इन मुद्दों से निपटने के उपाय सुझाया जिससे लंबी अवधि में उच्च विकास दर बनाए रखने में मदद मिल सके।

गौरतलब है कि केन्द्रीय बजट पेश करने से पहले आज वित्त मंत्रालय की ओर से शनिवार को हलवा सेरेमनी का आयोजन किया गया।बता दें कि हर बार बजट पेश करने से पहले सरकार हलवा सेरेमनी का आयोजन करती है।जिसको वित्त मंत्री की ओर से नेताओं,अधिकारियों और कर्मचारियों को बांटा जाता है।इस सेरेमनी के दौरान वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के अलावा वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर भी मौजूद रहे।
गौरतलब है कि 5 जुलाई को सरकार संसद में बजट पेश करेगी। इस बार के बजट में सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती किसानों की समस्याओं को लेकर है। पिछले हफ्ते हुई बैठक में भी प्रधानमंत्री ने इस पर चर्चा की थी। प्रधानमंत्री ने नीति आयोग की बैठक में कहा था कि कृषि क्षेत्र में सुधार, निजी निवेश पर सबसे ज्यादा ध्यान देने की जरुरत है।