मथुरा में बोले PM मोदी- कुछ लोगों के कान पर ओम और गाय शब्द पड़ते ही बाल खड़े हो जाते हैं

New Delhi : मथुरा पहुंचकर पीएम मोदी ने सबसे पहले वेटरनेरी जाकर गाय की पूजा की उसके बाद मेले का निरीक्षण किया। पीएम ने राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम (एनएडीसीपी) का शुभारंभ किया। इस दौरान उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि ”इस देश का दुर्भाग्य है कि कुछ लोगों के कान पर ओम और गाय शब्द पड़ता है तो उनके बाल खड़े हो जाते हैं। उनको लगता है देस 16 वीं शताब्दी में चला गया। ऐसा ज्ञानी और देश को बरबाद करने वालों ने देश को बरबाद करने में कुछ नहीं छोड़ा।”

उन्होंने कहा कि एक सदी पहले, स्वामी विवेकानंद ने 11 सितंबर को विश्व शांति के बारे में शिकागो में अपना ऐतिहासिक भाषण दिया था । दुर्भाग्य से, उसी दिन अमेरिका में 9/11 आतंकवादी हमला भी हुआ जिसने दुनिया को हिला दिया। पीएम ने कहा आज आतंकवाद एक विचारधारा बन गई है, जो राष्ट्रीय सीमाओं से बंधी नहीं है। यह एक वैश्विक समस्या है, जिसकी गहरी जड़े हमारे पड़ोस में पनप रही हैं।

सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग करने की अपील करते हुए पीएम ने कहा ‘हमें 2 अक्टूबर, 2019 तक अपने घरों, कार्यालयों और एकल-उपयोग प्लास्टिक के कार्यक्षेत्र से छुटकारा पाने के लिए प्रयास करने की आवश्यकता है। मैं स्वयं सहायता समूहों, नागरिक समाज, व्यक्तियों और अन्य लोगों से इस मिशन में शामिल होने की अपील करता हूं।’

मोदी ने योगी की तारीफ करते हुए कहा कि  ”योगी आदित्यनाथ ने अपना सारा जीवन इन्सेफेलाइटिस के खिलाफ लड़ा और संसद और देश का ध्यान में इसकी ओंर खींचा। हालाँकि, कुछ निहित स्वार्थी समूहों ने इसके कारण बच्चों की मौ’तों के लिए अपनी सरकार को दो’षी ठहराया लेकिन योगी जी की आ’त्मा को संतुष्टि नहीं मिली और उन्होंने अपना काम जारी रखा।

प्रधानमंत्री ने देश भर के लिए 40 मोबाइल पशु चिकित्सा वाहनों को झंडी दिखाई। बता दें कि  एनएडीसीपी योजना का मकसद है कि गाय या अन्य जानवरों के पेट में सड़क पर फैली प्लास्टिक को जाने से बचाया जा सके। उन्होंने यहां कूड़े से प्लास्टिक अलग करने वाली मशीन का भी इस्तेमाल किया। इसके साथ ही आगरा, हापुड़, मुरादाबाद के लिए करोड़ों रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया।

मथुरा में जमीन पर बैठकर कू’ड़ा छां’टने लगे PM मोदी….ऐसा प्रधानमंत्री देखा है कभी