मथुरा:PM ने शुरू की प्लास्टिक मु्क्त भारत बनाने की मुहिम,कूड़ा बीनने वाली महिलाओं से की बातचीत

New Delhi: प्रधानमंत्री मोदी मथुरा पहुंच चुके हैं। उनके स्वागत के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई मंत्री पहुंचे। सबसे पहले पीएम वेटरनेरी विश्वविद्यालय में पशु आरोग्य मेले का उद्घाटन करने पहुंचे। उन्होंने वहां पर गाय की पूजा की उसके बाद मेले का निरीक्षण किया। पीएम ने गायों की नस्लों के बारे में भी जानकारी प्राप्त की उसके बाद राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम (एनएडीसीपी) का शुभारंभ किया। 

इस कार्यक्रम के दौरान मथुरा की सांसद हेमा मालिनी के साथ- साथ मंत्री गिरिराज सिंह, प्रदेश सरकार के मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, गजेंद्र सिंह शेखावत मुख्य मंच पर उपस्थित रहे। इसका उद्देश्य पशुओं में पैर और मुंह के रोग (एफएमडी) और ब्रुसेलोसिस को खत्म करना है।

प्रदर्शनी को देखते हुए मोदी ने कई चीजों की जानकारी ली। उन्होंने जाना कि गाय मूत्र से बनने वाले उत्पादों कौन -कौन से हैं ? इसी कड़ी में  मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि स्वच्छता की शुरुआत मथुरा की धरती से हो रही है। उन्होंने  कहा कि साल 2014 में पीएम बनने के बाद मोदी ने  घोषणा की थी कि किसानों की आय दोगुना करने और उनके हित में कार्य किया जाएगा। जिसके बाद  अनेक कार्यक्रम किसानों के हित में लागू किए गए हैं।  मोदी ने भारत को दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में विश्व का अग्रणी देश बनाने की मुहिम की शुरुआत भी चलाई है।

इसके बाद पीएम उन महिलाओं से मिले जो कचरे से प्लास्टिक उठाती हैं और उनकी मदद के लिए हाथ बढ़ाती हैं। पीएम आज सिंगल उपयोग वाले प्लास्टिक उत्पादों के खिलाफ अभियान शुरू करेंगे। प्रधानमंत्री ने उन महिलाओं से बातचीत की और जाना कि किस तरह से कूड़े से प्लास्टिक को अलग किया जाता है। 

प्रधानमंत्री ने देश भर के लिए 40 मोबाइल पशु चिकित्सा वाहनों को झंडी दिखाई। बता दें कि  एनएडीसीपी योजना का मकसद है कि गाय या अन्य जानवरों के पेट में सड़क पर फैली प्लास्टिक को जाने से बचाया जा सके। उन्होंने यहां कूड़े से प्लास्टिक अलग करने वाली मशीन का भी इस्तेमाल किया। इसके साथ ही आगरा, हापुड़, मुरादाबाद के लिए करोड़ों रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया।