घरेलू उड़ानों की तैयारी पूरी : विमान कंपनियां पूरी कर रहीं औपचारिकता, दिल्ली से महत्वपूर्ण शहर जोड़ेंगे

New Delhi : लॉकडाउन के चौथे चरण के दौरान घरेलू उड़ानों को दोबारा चालू करने का रास्ता साफ हो गया है। घरेलू एयरलाइंस कंपनियों ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय और देश के हवाई सेवा नियामक नागरिक उड्डयन महानिदेशक (डीजीसीए) को अपने विमानों की उड़ान योग्य पूरी तरह फिट होने की रिपोर्ट सौंप दी है। ये रिपोर्ट उस तय प्रोटोकॉल के तहत उठाई गई हैं, जिसमें फ्लाइटों का दोबारा संचालन चालू करने से पहले विमानों की स्थिति का ब्योरा जमा कराया जाना अनिवार्य किया गया है।

इधर नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी एयरलाइंस और एयरपोर्ट ऑपरेटरों को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर जारी की है। इसके मुताबिक केंद्र ने एयरलाइंस से कहा है कि उड़ानें शुरू होने के पहले फेज में 80 साल से ऊपर के व्यक्ति को यात्रा की इजाजत ना दी जाये। शुरुआती चरण में केबिन में बैग ले जाने की इजाजत नहीं होगी। अगर किसी यात्री या स्टाफ में कोई लक्षण दिखाई दे रहा है और आरोग्य सेतु ऐप पर ग्रीन सिग्नल नहीं आ रहा है, तो ऐसे व्यक्ति को एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग में दाखिल होने की इजाजत नहीं दी जायेगी।
केंद्रीय नागरिक उड्यन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने 9 मई को देश में एक हफ्ते में फ्लाइट सेवाएं शुरू करने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि सुरक्षा उपायों को ध्यान में रखते हुए जल्द ही फ्लाइट सेवा शुरू की जा सकती है। इसके लिए गाइडलाइन तैयार की जा रही है। विशेषज्ञों की राय ली जा रही है ताकि फ्लाइट सेवा शुरू होने के बाद संक्रमण ज्यादा न फैल सके।
सिविल एविएशन सिक्योरिटी ब्यूरो और सिविल एविएशन के डायरेक्टर जनरल ने सोमवार को देश के प्रमुख एयरपोर्ट का दौरा किया। हालात का जायजा लिया। देखा कि एयरपोर्ट लॉकडाउन के दौरान सफर के लिए सुरक्षित हैं या नहीं। और सफर के लिए आवश्यक शर्तों का पालन करवाने के लिए वहां पर्याप्त साधन हैं या नहीं। दिल्ली एयरपोर्ट पर लॉकडाउन खुलने के बाद टर्मिनल 3 से यात्रियों के लिए कमर्शियल उड़ानें शुरू की जायेंगी। दिल्ली एयरपोर्ट के एक अधिकारी ने बताया कि भीड़ से बचने के लिए विमान कंपनियों के लिए एंट्री गेट, सेल्फ चेक-इन मशीन और चेक-इन बे अलॉट कर दी जाएंगी यानी हर एयरलाइन के यात्री का एंट्री का गेट और चेक-इन बे अलग होंगी। अधिकारी ने बताया कि किसी एक जगह पर भीड़ ना इकट्ठा हो इसके लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ने एक योजना बनाई है।

इसके तहत एयरपोर्ट पर खाने-पीने की सभी शॉप्स को खुला रखा जाएगा। एयरपोर्ट पर आने वाले बैगेज को डिसइन्फेक्ट करने के लिए अल्ट्रावॉयलेट डिसइन्फेक्शन टनल का इस्तेमाल किया जाएगा। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने जो प्लान बनाया है, उसके मुताबिक इंडिगो और विस्तारा से उड़ान भरने वाले केवल गेट नंबर एक और दो से एंट्री कर सकेंगे। इन दोनों एयरलाइंस के यात्री ए, बी और सी कतार में चेक-इन कर सकेंगे। यहां पर एयरलाइंस का स्टाफ ही यात्रियों को चेकइन में मदद करेगा। एयर एशिया और एयर इंडिया के यात्री गेट नंबर 3 और 4 का इस्तेमाल करेंगे। इन यात्रियों को चेक-इन के लिए डी, ई और एफ कतार दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + two =