नाबालिग के नाम पर पीपीएफ अकाउंट खोलने के ये 5 फायदे नहीं जानते होंगे आप

New Delhi : पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) एक सबसे सफल निवेश विकल्प है जिसमें कोई भी इंडिविजुअल (व्यक्तिगत) या नौकरीपेशा अपना खाता खुलवा सकता है। यह लंबी अवधि के लिए निवेश करने वालों के लिए एक शानदार विकल्प है जिसमें टैक्स फ्री रिटर्न मिलता है। यह 15 वर्ष की एक निवेश योजना होती है जिस पर फिलहाल 8 फीसद की दर से ब्याज मिल रहा है।

इस योजना के अंतर्गत कई तरह की सुविधाएं मिलती हैं जिनका फायदा आप उठा सकते हैं। जानकारी और पीपीएफ के नियमों के कोई भी व्यक्तिगत निवेशक किसी नाबालिग के नाम पर भी पीपीएफ खाता खुलवा सकता है। ऐसे करने से आपको काफी सारे फायदे मिल सकते हैं जिसके बारे में हम अपनी इस खबर में जानकारी दे रहे हैं।

जैसा कि यह एक 15 वर्षीय निवेश योजना होती है लिहाजा आपको नाबालिग का बेहद कम उम्र में यह खाता खुलवा देना चाहिए। पूरी अवधि के दौरान हुई कमाई पर ब्याज जोड़ा जाता है। अगर आप नाबालिग का अकाउंट उसके 5 वर्ष की उम्र में खोल देते हैं तो अकाउंट के मैच्योर होने पर मिलने वाली राशि का इस्तेमाल उसकी शिक्षा के लिए किया जा सकता है। एक पीपीएफ खाते में एक वित्त वर्ष के दौरान जमा की जाने वाली 1.5 लाख रुपये तक की अधिकतम राशि कर छूट के दायरे में आती है। यह छूट आयकर की धारा 80C के अंतर्गत मिलती है।

The post नाबालिग के नाम पर पीपीएफ अकाउंट खोलने के ये 5 फायदे नहीं जानते होंगे आप appeared first on Live Bavaal.