हाथरस के चप्पे-चप्पे पर पुलिस, प्रियंका बोलीं- जितना दबाओगे, आवाज उतनी ही बुलंद होगी

New Delhi : हाथरस प्रकरण पर राजनीतिक बवेला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस पूरे प्रकरण पर प्रियंका गांधी ने कहा- हाथरस के पीड़ित परिवार को न्याय देने की बजाय उन्हें लगातार घर में नजरबंद किया हुआ है। उन्हें डराया जा रहा है। फोन तक छीन लिये गये हैं। परिवार के एक बच्चे ने कैमरे के सामने ताऊ के साथ पुलिस की अभद्रता का आरोप भी लगाया है। मीडिया और तमाम लोगों को अंदर जाने से रोका जा रहा है। इस सरकार को पता नहीं है कि जितना दबाओगे, इंसाफ की आवाज उतनी ही बुलंद होगी। हम सड़कों पर पीड़ित परिवार के इंसाफ की लड़ाई जारी रखेंगे।

हाथरस के पीड़ित परिवार को न्याय देने की बजाय उन्हें लगातार घर में नजरबंद किया हुआ है। उन्हें डराया और धमकाया जा रहा है।…

Priyanka Gandhi Vadra यांनी वर पोस्ट केले शुक्रवार, २ ऑक्टोबर, २०२०

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी हाथरस प्रकरण पर सरकार के रवैये पर सवाल खड़े किये हैं। उन्होंने कहा है कि हमलोग लोकतंत्र में रहते हैं, यहां कोई राजा नहीं है, सभी सेवक हैं, इस बात को समझना होगा।
बता दें कि हाथरस प्रकरण के पीड़ित के परिवार का एक बच्चा खेतों से छिप छिपाकर गांव के बाहर रोके गये मीडिया कर्मियों से आकर मिला। उसने कैमरे के सामने कहा कि गांव के सभी लोगों का फोन छीन लिया गया है। किसी को घर बाहर नहीं निकलने दे रहे। खेतों में नहीं जाने दे रहे। डराया जा रहा है। पीड़ित के पिता के छाती पर ऐसी लात मारी कि वो बेहोश हो गया। गांव में घर की छतों पर, सभी सड़कों पर पुलिस है। गांव की चौतरफा घेराबंदी है।
तमाम प्रयास के बाद भी मीडिया को गांव के भीतर पीड़ित परिजनों के पास नहीं जाने दिया जा रहा है। इस खबर के बाद भी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। भीम सेना के चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण ने कहा है कि वे 5 बजे इंडिया गेट पर धरना देकर विरोध जतायेंगे। हालांकि दिल्ली पुलिस ने आसपास के इलाके में 144 लागू कर दिया है। इधर आज शुक्रवार 2 अक्टूबर को तृणमूल कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन हाथरस में पीड़ित परिजनों से मिलने के लिये निकल पड़े लेकिन उन्हें यूपी पुलिस ने गांव पहुंचने से पहले ही रोक दिया।

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ता हर जिले में योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन का आयोजन कर रहे हैं। इधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजघाट पर बापू को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये कहा- महात्मा गांधी ने ऐसे ‘आत्मनिर्भर भारत’ का सपना देखा था, जहां हर गांव आत्मनिर्भर हो। उनके जीवन और विचारों से बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + one =