वृंदावन के प्रेम मंदिर और कृष्ण जन्मस्थान को ब’म से उ’ड़ाने की ध’मकी देने वाला गि’रफ्तार

New Delhi :  जन्माष्टमी के मौके पर वृंदावन के प्रेम मंदिर को ब’म से उड़ाने की ध’मकी देने वाला गि’रफ्तार कर लिया गया है। जब से ध’मकी मिली थी तब से पुलिस सक्रिय हो गई थी और आ’रोपी को ढूंढने की कोशिश कर रही थी। दो दिन पहले पुलिस कप्तान शलभ माथुर ने उसकी गि’रफ्तारी कराने वाले को 25 हजार का इनाम घोषित किया था। पुलिस मुठभेड़ में उसके बांये पैर में गो’ली लगी और वह गि’र गया जिसके बाद उसे गि’रफ्तार कर लिया गया।

बता दें कि आठ अगस्त को वृंदावन में प्रेम मंदिर सहित कई बड़े मंदिरों को ब’म से उ’ड़ाने की ध’मकी दी गई थी। मंदिर परिसर के रिसेप्शन फोन पर कहा गया कि ‘हमारे कई लोग मथुरा, वृंदावन पहुंच गए हैं। जन्माष्टमी के मौके पर ध’माका कर कृष्ण जन्म स्थान सहित कई धार्मिक स्थानों को उ’ड़ा दिया जाएगा।’

जिसके बाद से लोगों के अंदर द’हश’त फैल गई थी। लोग स’हमे हुए थे। लेकिन जैसे ही पुलिस को इसकी सूचना दी गई पुलिस ने आ’रोपी का नंबर और स्थान को ट्रेस करवाया। जिसके बाद पता चला कि आ’रोपी हाइवे पर जैंत चौंकी पर है। सोमवार को पुलिस वहीं पहुंच गई। आ’रोपी ने पुलिस को वहां देख गो’ली चला दी। जिसके बाद पुलिस ने भी गो’ली चला दी और आ’रोपी के बांये पैर पर गो’ली जा लगी।

प’कड़े जाने के बाद पता चला कि आरोपी इंदौर जिले का रहने वाला है और उसका नाम अज्जू राजौरा है। वृंदावन कोतवाली प्रभारी संजीव कुमार दुबे और रमणरेती चौकी इंचार्ज राकेश कुमार ने बताया कि मई 2018 में भी इसने नयति को ब’म से उ’ड़ाने की ध’मकी दी थी।