इंजीनियर्स डे पर पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं,कहा-‘इनके अभिनव उत्साह के बिना अधूरी है मानव प्रगति’

NEW DELHI:देश में हर साल 15 सितंबर को मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के जन्मदिन पर इंजीनियर डे मनाया जाता है। इंजीनियरिंग के अग्रणी भारत रत्न मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया की जयंती पर नरेंद्र मोदी सभी इंजीनियरों को शुभकामनाएं देते हुए बड़ी बात कही है।

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा- ‘इंजीनियर परिश्रम और दृढ़ संकल्प के पर्याय हैं। उनके अभिनव उत्साह के बिना मानव प्रगति अधूरी होगी। इंजीनियर्स डे पर सभी मेहनती इंजीनियरों को शुभकामनाएं। अनुकरणीय इंजीनियर Sir M. Visvesvaraya को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि।’

 

भारत में इंजीनियरिंग के अग्रणी भारत रत्न मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया (जिन्हें लोकप्रिय रूप से सर एमवी के रूप में जाना जाता है) की जयंती को याद करने के लिए हर साल 15 सितंबर को भारत में इंजीनियर्स डे मनाया जाता है।

सर एम. विश्वेश्वरैया एक बेहतरीन इंजीनियर थे और उन्होंने कई महत्वपूर्ण कार्यों जैसे नदियों के बांध, ब्रिज और पीने के पानी की स्कीम आदि‍ को कामयाब बनाने में अविस्‍मरणीय योगदान दिया है। उनके इंजीनियरिंग के क्षेत्र में विशेष योगदान को सम्मानित करने के लिए उन्हें 1955 में ‘भारत रत्न’ से भी नवाजा गया है। उन्होंने भारत में सिंचाई सुविधाओं को भी सुदृढ़ किया, जिससे बाढ़ से हजारों लोग बच गए। इनमें सबसे उल्लेखनीय है मैसूरु शहर के कृष्णा राजा सागर बांध और हैदराबाद शहर के लिए बाढ़ सुरक्षा प्रणाली के मुख्य अभियंता के रूप में उनका काम।

इंजीनियर्स डे मनाने का उद्देश्‍य है भारत में विद्यार्थियों को इस क्षेत्र में आने के लिए प्रेरित करना। इंजीनियर देश को समृद्ध और विकसित बनाने में अति महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। भारत इंजीनियरिंग व आईटी के क्षेत्र में दुनिया का अग्रणी देश है।