PM Modi ने कहा – कोरोना से तभी बचा जा सकता है, जब घर की लक्ष्मण रेखा ना लांघी जाये

New Delhi : देश में फैल रहे Corona Virus को लेकर PM Narendra Modi ने मंगलवार रात आठ बजे देश को संबोधित किया। PM ने कहा – परीक्षा की इस घड़ी में एक दिन के जनता कर्फ़्यू को हर एक आदमी ने सफल बनाया। Corona Virus महामारी के बारे में सबलोग जान रहे हैं। सक्षम से सक्षम देश इस महामारी का मुक़ाबला नहीं कर पा रहे हैं। पिछले 2 माह का एक्सपीरिएंस बता रहा है कि सोशल डिस्चेन्शिंग और घरों में लॉक रहने के सिवा कोई और विकल्प नहीं है। सोशल डिस्टेन्शिंग हर व्यक्ति के लिये है। PM के लिये भी। सिर्फ़ मरीज़ों के लिये नहीं, सबके लिये ज़रूरी है। लॉकडाउन को गंभीरता से लें। आज रात 12 बजे से पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन। घरों से निकलने पर पाबंदी। जो जहां है, वही रहें।
PM Modi ने कहा- हिंदुस्तान को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से देश में पूरी तरह लॉकडाउन होगा। यह जनता कर्फ्यू से ज्यादा सख्त होगा। यह 21 दिन का होगा। बाहर निकलना क्या होता है, यह 21 दिन के लिए भूल जाइए। 21 दिन नहीं संभले तो आपका देश और आपका परिवार 21 साल पीछे चला जाएगा। यह एक तरह से कर्फ्यू ही है, हर राज्य, जिला, गली-मोहल्ला लॉकडाउन किया जा रहा
PM Modi ने कहा- अगर लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है। यह कीमत कितनी चुकानी पड़ेगी, अंदाजा लगाना मुश्किल है। देश में दो दिनों से कई भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए। हेल्थ सेक्टर के अनुभवों को ध्यान में रखते हुए देश महत्वपूर्ण निर्णय करने जा रहा है। आज रात 12 बजे से पूरे देश में पूरा लॉकडाउन होने जा रहा है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हर नागरिक को बचाने के लिए, आपके परिवार और आपको बचाने के लिए आज रात 12 बजे से घरों से बाहर निकलने पर पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। राज्य, केंद्र शासित प्रदेश, हर जिला, गांव, कस्बा, गली-मोहल्ला लॉकडाउन किया जा रहा है। यह एक तरह से कर्फ्यू ही है। जनता कर्फ्यू से जरा ज्यादा सख्त है। कोरोना महामारी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए यह कदम बहुत आवश्यक है।
मोदी ने कहा- सवाल ये है कि इस स्थिति में उम्मीद की किरण कहां है, उपाय और विकल्प क्या हैं। कोरोना से निपटने के लिए उम्मीद की किरण उन देशों से मिले अनुभव हैं, जो कोरोना को कुछ हद तक नियंत्रित कर पाए। हफ्तों तक इन देशों के नागरिक घरों से बाहर नहीं निकले। इन देशों के नागरिकों ने शत-प्रतिशत सरकारी निर्देशों का पालन किया और इसलिए ये कुछ देश अब इस महामारी से बाहर आने की ओर बढ़ रहे हैं। हमें भी यह मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने सिर्फ और सिर्फ यही एक मार्ग है। हमें घर से बाहर नहीं निकलना है। चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है।

PM Modi ने आज सुबह ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा – वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण बातें देशवासियों के साथ साझा करूंगा. आज, 24 मार्च रात 8 बजे देश को संबोधित करूंगा। इधर देश में कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 583 हो गई, जबकि 9 लोगों की मौत हो चुकी हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 101 मामलों की पुष्टि हुई। दूसरे नंबर पर केरल (95) है। वहीं, मंगलवार को मणिपुर में संक्रमण का पहला मामला सामने आया। 23 वर्षीया संक्रमित लड़की हाल ही में ब्रिटेन से लौटी थी। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने पूरी तरह लॉकडाउन की घोषणा की है। प्रधानमंत्री मोदी आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे। 5 राज्यों में कर्फ्यू लगाया गया है। देशभर में लॉकडाउन और कर्फ्यू लागू करवाने के लिए पुलिस सड़कों पर है। पुलिस बैरिकेडिंग कर सिर्फ जरूरी कामों के लिए लोगों को आने जाने की इजाजत दे रही है। दिल्ली में सोमवार को लॉकडाउन के पहले दिन उल्लंघन करने 1012 लोगों पर केस दर्ज किए गए। इस बीच आंध्र प्रदेश सरकार ने कहा है कि विदेश से लौटे लोगों की पहचान के लिए मेडिकल टीमें लोगों के घर जाकर उनकी जांच करेगी। तीन राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और ओडिशा ने अपने कई शहरों को लॉकडाउन किया है। देश के 577 जिले इस दायरे में आते हैं। वहीं, महाराष्ट्र, पंजाब, पुडुचेरी और राजस्थान में कर्फ्यू लगाने की घोषणा की गई है। मध्य प्रदेश के भोपाल और जबलपुर में सोमवार आधी रात से कर्फ्यू लागू कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− six = three