पीएम मोदी बोले- अमर सिंह की राजनीति को बेहद करीब से देखने को मिला, वे दोस्ती खूब निभाते थे

New Delhi : प्रख्यात समाजवादी औेर राज्यसभा सदस्य नेता अमर सिंह का एक अगस्त को 64 साल की उम्र में सिंगापुर में निधन हो गया। अमर सिंह काफी लंबे समय से बीमार चल रहे थे। छह महीने से उनका सिंगापुर में इलाज चल रहा था। वह आईसीयू में थे और उनका परिवार उनकी देखभाल में लगा था। इसी साल मार्च में उनके निधन की अफवाह उड़ी थी जिसके बाद उन्होंने एक वीडियो संदेश जारी कर कहा था- टाइगर अभी जिंदा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश के गणमान्य नेताओं ने उनके निधन पर शोक प्रकट किया है। लेकिन उनके बेहद करीबी दोस्त माने जानेवाले कुछ बेहद गणमान्य लोगों ने उनके लिये संवेदना का एक शब्द तक प्रकट नहीं किया।

पीएम मोदी ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुये कहा- वे अपनी दोस्ती निभाने की कला के लिये हमेशा याद किये जायेंगे। साल 2013 में अमर सिंह की किडनी खराब हो गई थी। आज दिन में भी उन्होंने स्वतंत्रता सेनानी बाल गंगाधर तिलक को उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी थी और सभी फॉलोअर्स को ईद अल अजहा के मौके पर उन्हें बधाई भी दी। वह बीमार होने के बावजूद सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय थे।
उन्होंने अस्पताल के बेड से 22 मार्च को ट्विटर पर एक छोटा सा वीडियो पोस्ट किया था। इस वीडियो में उन्होंने अपने सभी फॉलोअर्स में अपील करते हुये कहा था – कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का समर्थन करें। अमर सिंह ने 2011 में राष्ट्रीय लोक मंच बनाया था। 2012 के विधानसभा चुनावों में उत्तर प्रदेश की 403 सीटों में से 360 पर अपने उम्मीदवार खड़े किये। अमर सिंह का जन्म उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में 27 जनवरी 1956 में हुआ। उन्होंने बीए, एलएलबी की थी। वे उद्योगपति से राजनेता बने थे।
वे समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और राष्ट्रीय सहारा के प्रमुख सुब्रतो बनर्जी से करीब रिश्तों के दम पर कई सालों तक भारतीय राजनीति में काफी प्रभावशाली नेताओं में शुमार किये गये। अमिताभ बच्चन के परिवार से भी अमर के बेहद करीबी रिश्ते रहे। पिछले कुछ सालों में इन रिश्तों में खटास जरूर आई थी। इस साल फरवरी में अमर ने एक वीडियो जारी करके अमिताभ से माफी भी मांगी थी। हालांकि आज अमर सिंह के गुजर जाने के बाद अमिताभ बच्चन ने कोई ट्वीट नहीं किया। उन्होंने दूसरे ट्वीट किये लेकिन अमर सिंह को लेकर नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

forty − = thirty two