रेस्टोरेंट की अनोखी पहल-एक किलो प्लास्टिक के बदले पिज्जा-डोसा, 250 ग्राम में समोसा-चाय

New Delhi : प्लास्टिक के खिलाफ अभियान के तहत अब तक इसके बदले छोटे-मोटे कूपन देने की बात हो रही थी। अब प्लास्टिक के बदले रेस्टोरेंट में खाना भी मिलना शुरू हो गया है। द्वारका में दो फूड कोर्ट ने प्लास्टिक के बदल खाना देना शुरू किया है।

रेस्टोरेंट्स ने इसे गारबेज कैफे का नाम दिया है। यह शुरुआत साउथ एमसीडी की अपील पर रेस्टोरेंट्स ने की। एमसीडी इलाके में अन्य रेस्टोरेंट्स में भी ऐसा कराने का प्लान साउथ एमसीडी का है।

द्वारका सेक्टर 12 के सिटी सेंटर मॉल और सेक्टर 23 स्थित वर्धमान मॉल में हीरा कन्फैशनर्स ने लोगों को प्लास्टिक के बदले खाना खिलाना शुरू किया है। यह शुरुआत सोमवार से हुई है। दोनों जगह गारबेज कैफे का बैनर लगा है। बैनर पर लिखा है, एक किलो प्लास्टिक लाओ और खाना खाओ, 250 ग्राम प्लास्टिक लाओ और नाश्ता करो। सिटी सेंटर मॉल में 250 ग्राम प्लास्टिक के बदले समोसा-चाय, ब्रेड-पकौड़ा दिया जा रहा है, जबकि एक किलो प्लास्टिक के बदल पिज्जा, डोसा एवं अन्य तरह का खाना खा सकते हैं। हीरा कन्फैशनर्स पर गोल गप्पे भी खाए जा सकते हैं।

साउथ एमसीडी के नजफगढ़ जोन के डिप्टी कमिश्नर संजय सहाय ने कहा कि हम लोगों को स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के लिए जागरूक कर रहे हैं। उसी कड़ी में प्लास्टिक फ्री का यह प्लान है। एरिया के अन्य रेस्टोरेंट्स संचालकों से ऐसा शुरू करने की अपील करेंगे। एमसीडी के अधिकारियों का प्लान रेस्टोरेंट मालिकों को पसंद आया है। इकट्‌ठी होने वाले प्लास्टिक को ठीक से निस्तारण करने के लिए भेजा जाएगा।