पहलू खान लिं’चिंग के’स : सभी 6 आ’रोपियों को अदालत ने किया बरी

New Delhi: राजस्थान की एक अदालत ने 2017 में पहलू खान की पि’टाई के सभी छह आ’रोपियों को आज बरी कर दिया। इस घ’टना ने देश भर में हलचल मचा दी है। आपको बता दें कि 2017 को दिल्ली-अलवर राजमार्ग पर गौ रक्षकों की भी’ड़ ने उनको गौ त’स्कर समझकर घेर लिया था। उन्होंने अपनी खरीद रसीदें दिखाकर खुद को बचाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ ने उनकी एक न सुनी। पि’टाई की यह पूरी घ’टना कैमरे में कैद हो गई थी। हालांकि, अदालत ने मामले में सबूत के रूप में वीडियो फुटेज को स्वीकार नहीं किया और आ’रोपी को संदेह का लाभ दिया।

अलवर में अतिरिक्त जिला जज की अदालत द्वारा सुनाए गए फैसले में कहा गया कि आ’रोपियों को संदेह का लाभ दिया गया है। 7 अगस्त को मु’कदमें की सुनवाई पूरी हो गई थी। जिसमें 40 से अधिक गवाहों ने गवाही दी थी। जिनमें खान के दो बेटे भी शामिल थे, जिन्होंने के’स दायर कराया था।

हरियाणा के नूंह के 55 वर्षीय मूल निवासी पहलू खान ने दूध का उत्पादन बढ़ाने के लिए अपने घर से निकले थे। 1 अप्रैल, 2017 को दिल्ली-अलवर राजमार्ग पर गौ रक्षकों की भीड़ ने उनको घेर लिया था। उन्होंने अपनी खरीद रसीदें दिखाकर खुद को बचाने की कोशिश की, लेकिन भीड़ ने उनकी एक न सुनी। उनको भीड़ ने छड़ और ला’ठी से प्रहार करके मा’र दिया।

पहलू खान की मौ’त के बाद ये केस मीडिया में खुब सुर्खियों में रहा। जिसके चलते आ’रोपियों को गि’रफ्तार किया गया था। परन्तु दो साल बाद आ’रोपियों को कोर्ट ने बरी कर दिया है।