चिदंबरम जैसे नेता धरती पर बोझ हैं, तमिलनाडु के सीएम पलानीस्वामी ने कांग्रेस नेता को लगाई लताड़

New Delhi : तमिलनाडु के मुख्यमंत्री इडापड्डी के पलानीस्वामी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता P Chidambaram को जमकर लताड़ लगाई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व वित्तमंत्री धरती के लिए बोझ हैं। चिदंबरम को केवल अपने हितों की चिंता थी, देश के बारे में नहीं। उन्‍होंने कहा कि लंबे समय तक केंद्रीय मंत्री रहने के बावजूद चिदंबरम ने कावेरी नदी जल विवाद सहित राज्य के मुद्दों को कोई गंभीरता नहीं दिखाई। विशेष रूप से तमिलनाडु के बारे में कोई स्‍कीम लाई हो तो उसके बारे में बताएं। पलानीस्वामी ने यह भी पूछा कि क्या वित्त मंत्रालय संभालते हुए चिदंबरम ने “पर्याप्त धन दिया”।

इस पर चिदंबरम के पुत्र और तमिलनाडु के शिवगंगा लोकसभा सीट से सांसद कार्ति चिदंबरम ने मुख्यमंत्री पलानीस्वामी को तीखी फटकार लगाई, जिन्होंने पूछा कि क्या उनके पिता के खिलाफ टिप्पणी में कोई राजनीतिक शालीनता है। दरअसल चिदंबरम ने तमिलनाडु सरकार के खिलाफ बयान दिया था कि अगर केंद्र सरकार ने तमिलनाडु को एक केंद्र शासित प्रदेश बनाने का फैसला किया, जैसा कि उन्‍होने जम्मू-कश्मीर के बारे में किया है, तो सत्तारूढ़ एआईडीएमके इस तरह के कदम का विरोध नहीं करेगी।

इससे पहले पी चिदंबरम ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। चिदंबरम ने कहा है कि नरेंद्र मोदी की सरकार ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 को इसलिए हटाया क्योंकि वहां ज्यादातर लोग मुस्लिम हैं। सरकार ने 5 अगस्त को सदन में कश्मीर से Article 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन की जानकारी दी थी। चेन्नई में एक कार्यक्रम में कांग्रेस के नेता पी चिदंबरम लोगों को संबोधित कर रहे थे। वहां उन्होंने कहा – अगर कश्मीर में हिंदू बहुसंख्यक होते तो भारतीय जनता पार्टी अनुच्छेद 370 को छूती भी नहीं। बस इसलिए उन्होंने वहां से Article 370 को हटाया क्योंकि वहां बहुत बड़ी आबादी मुस्लिमों की है।