चुनाव की तारीखों पर न करें राजनीति, क्या रोजा रहकर मुसलमान काम नहीं करतेः ओवैसी

New Delhi: 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर देश में काफी हलचल है। चुनाव आयोग तारीखों का एलान हो गया है। वहीं 2019 का बिगुल बजने के बाद सभी नेताओं की प्रतिक्रया आ रही हैं। पीएम मोदी से लेकर सीएम योगी और अखिलेश सभी ने चुनव की तारीखों के एलान होने के बाद प्रतिक्रया दी। वहीं अब ओवैसी का भी बयान सामने आया है और उन्होंने इसका स्वागत किया है।

Quaint Media,Quaint Media consultant pvt ltd,Quaint Media archives,Quaint Media pvt ltd archives,Live India Hindi,Live News

2019 लोकसभा चुनाव की तारीखों का एलान हो गया है। आपको बता दें कि, सबसे अधिक लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तरप्रदेश में सात चरणों में चुनाव होने हैं। ऐसे में एक नजर में देखें सातों चरण में अलग-अलग कुल कितनी सीटों पर मतदान होंगे। तो वहीं चुनाव की तारीख आने के बाद सभी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। ऐसे में अब ओवैसी का भी बयान सामने आया है और उनका कहना है कि, मैं रमजान में चुनाव होने पर बेहद खुश हूं। साथ ही वह कहते हैं कि, रमजान के मौके पर चुनाव का मैं समर्थन करता हूं।

 

चुनाव की तारीखों का एलान होने के साथ ही, अब पीएम मोदी का पहला बयान सामने आ गया है। पीएम ने चुनाव की तारीखों का एलान होने के बाद सबहिं राजनीतिक दलों को शुभकामनायें दी हैं और इसके साथ ही सभी प्रत्याशियों को भी चुनाव के लिए मुबारकबाद दी। वहीं आपको बता दें कि, इस बार चुनाव में पहली बार वीवीपैट मशीन का इस्तेमाल होने जा रहे है। जाहिर है पिछले काफी समय से ईवीएम को लेकर सवाल खड़े हो रहे थे। ऐसे में इस बार 2019 चुनाव में वीवीपैट मशीनों का इस्तेमाल होगा।

चुनावी घोषणा ही नहीं यह परिवर्तन की घोषणा है

2019 के लिए पहले फेज के मतदान 11 अप्रेल से शुरू हो जायेंगें और अंतिम मतदान 19 मई को डाले जाएंगे। वहीं 23 मई को नतीजें आने हैं। ख़ास बात यह है कि, देश के तीन बड़े राज्यों में हर चरण में चुनाव होने हैं। वहीं इस चुनाव में सबसे ख़ास बात यह है कि, इस बार सभी VVPAT मशीन का इस्तेमाल होगा। वहीं चुनावी बिगुल बजने के साथ ही अब एक के बाद एक नेताओं की प्रतिक्रया सामने आ रही है। इसी बीच अब अखिलेश यादव का बयान सामने आया है। अखिलेश ने कहा कि, यह सिर्फ एक चुनावी घोषणा नहीं है बल्कि यह परिवर्तन की घोषणा है। वह कहते हैं कि, तारीखों के एलान होने के साथ ही अब देश में बदलाव का सिलसिला भी शुरू हो गया है