हरियाणा चुनावों के चलते चुनाव आयोग ने कड़ी की सुरक्षा, लगाए गए 73,000 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी

New Delhi: हरियाणा में कल (सोमवार) होने वाले विधानसभा चुनावों के चलते पूरे राज्य में 73 हजार सुरक्षा बलों को आज से ही तैनात कर दिया गया है। ये जवान चुनाव होने तक पूरे राज्य में चप्पे चप्पे पर तैनात रहेंगे। 21 अक्टूबर को होने वाले मतदान के लिए 40,000 से अधिक हरियाणा पुलिस के जवान, 13,000 से अधिक अर्धसैनिक बल के जवान और 20,000 से अधिक होमगार्ड और विशेष पुलिस अधिकारी तैनात किए गए हैं। इतनी सुरक्षा का सिर्फ एक ही मकसद है चुनावों को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न करवाना।

हरियाणा डीजीपी मनोज यादव ने बताया कि चुनाव आयोग (ईसी) के निर्देशानुसार 2,000 से अधिक “असुरक्षित” मतदान केंद्र हैं जहां पैरामिलिट्री फोर्स तैनात की गई है। उन्होंने कहा कि 19,500 मतदान केंद्रों में से प्रत्येक में कम से कम एक कांस्टेबल और एक होमगार्ड के जवानों की तैनाती की गई है। डीजीपी ने कहा “हमने 19,500 मतदान केंद्रों में से प्रत्येक में कम से कम एक कांस्टेबल और एक होमगार्ड के जवानों की तैनाती के साथ कवर किया है। हरियाणा पुलिस के 40,000 से अधिक पुलिस कर्मियों, 13,000 से अधिक अर्धसैनिक बल के जवानों, 20,000 से अधिक होमगार्डों और विशेष पुलिस अधिकारियों को भी तैनात किया गया है”।

उन्होंने आगे कहा “हमने 21 अक्टूबर को स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के लिए प्रभावी, मजबूत और व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ कानून-व्यवस्था को भी सतर्क किया है। हमने बड़ी संख्या में पुलिस के मोबाइल वैन तैनात किए हैं जो लगातार अपनी गश्त में लगे रहेंगे। उन्होंने कहा, “2,000 से अधिक संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। कमजोर बूथ वे हैं, जहां समाज के कमजोर वर्ग से संबंधित मतदाताओं को डराने की संभावना है। चुनाव आयोग के निर्देशानुसार पैरामिलिट्री कर्मियों को यहां तैनात किया गया है।”

चुनाव आयोग के अनुसार, राज्य में 1,07,955 सेवा मतदाताओं सहित 1,83,90,525 पंजीकृत मतदाता हैं। 21 अक्टूबर को 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा के लिए मतदान होगा। विधानसभा चुनाव भाजपा, कांग्रेस, भारतीय राष्ट्रीय लोक दल (INLD) और जननायक जनता पार्टी (JJP) के बीच कई सीटों पर बहुकोणीय मुकाबला होगा।