4-5 अगस्त को अयोध्या संग पूरे उत्तर प्रदेश में दीपावली, योगी बोले- 500 वर्ष बाद आई यह शुभ घड़ी

New Delhi : श्रीरामजन्मभूमि में विराजमान रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के लिये भूमि पूजन के अवसर पर अयोध्या के साथ पूरे उत्तर प्रदेश में दीपावली मनाई जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को भूमि पूजन की तैयारी के लिए संतों की बैठक में लोगों से इसका आह्वान किया। कारसेवकपुरम में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री श्री योगी ने कहा – पांच सौ वर्षों के बाद वह शुभ घड़ी आई है जिसका हिन्दू समाज को बेसब्री से इंतजार था। यह एक अवसर है जब हम हर घर व मंदिर में दीपक जलाकर पूरी दुनिया को गौरवशाली क्षण का एहसास करा सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने हर घर व मंदिर में कम से कम पांच दीये जलाने का आह्वान किया। इस दौरान राम की पैड़ी पर भी 11 हजार दीये जलाये जाएंगे। उन्होंने बताया – प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच अगस्त को निर्धारित मुहूर्त में रामलला के भव्य मंदिर निर्माण के लिये भूमि पूजन करेंगे। इसके साथ संतों से अपेक्षा की कि रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से जब आमन्त्रण दिया जाए तो वही लोग कार्यक्रम में शामिल हों जिन्हें आमंत्रित किया गया है। किसी के बहकावे में आने और भ्रमित होने की जरूरत नहीं है। सम्पूर्ण अयोध्या को भव्यता देने की हमारी जिम्मेदारी है। विकास कार्य भी चल रहे हैं जिन्हें समयबद्ध ढंग से पूरा कराया जाएगा।
उन्होंने कहा – राम मंदिर निर्माण शुरू होने के साथ रामजन्मभूमि न्यास के पूर्व अध्यक्ष महंत रामचंद्र दास परमहंस और विहिप सुप्रीमो अशोक सिंहल की आत्मा को शांति मिलेगी। उन्होंने कहा कि मंदिर आन्दोलन को संघ का नेतृत्व मिला और संतों का मार्गदर्शन मिला जिसके कारण साधना की सिद्धि हुई है। इसीलिए इस अवसर को पूरी दुनिया के लिए यादगार बनाना है। इस कार्य में सभी संतों एवं समाज का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने सभी से पूरी अयोध्या को स्वच्छ और सुंदर बनाने की अपील करते हुए कहा कि हर मंदिर, मठ, घर, सड़क और हर गली साफ-सुधरी और सुंदर बने, इसके लिए रविवार से सामूहिक प्रयास शुरू कर दें।

बैठक के अंत में रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अध्यक्ष व मणिराम छावनी पीठाधीश्वर महंत नृत्यगोपाल दास ने मुख्यमंत्री को संत समाज की ओर से आश्वस्त किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का भव्यतम स्वागत होगा। उन्होंने कहा कि यह पूरे हिन्दू समाज के लिए ऐतिहासिक क्षण होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighty nine − eighty eight =