दिव्यांग टीचर संजय सेन के जज्बे को सलाम, चल नहीं पाते लेकिन बच्चों को बड़ी शिद्दत से पढ़ाते हैं

दिव्यांग टीचर संजय सेन के जज्बे को सलाम, चल नहीं पाते लेकिन बच्चों को बड़ी शिद्दत से पढ़ाते हैं

By: Manvi
September 14, 05:02
0
New Delhi: जब दिल में कुछ कर दिखाने का जोश हो, जुनून हो, जज्बा हो तो आप हर मुश्किलों को पार कर जाते हैं। राजस्थान की एक तस्वीर इन बातों का सबूत है।

ये तस्वीर सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रही है। इस तस्वीर में आप साफ देख सकते हैं कि एक दिव्यांग टीचर बड़ी शिद्दत से बच्चों को पढ़ा रहे हैं।

तस्वीरों में दिख रहे टीचर का नाम संजय सेन है। संजय राजस्थान के रहने वाले हैं। संजय यहां सरकारी स्कूल में दिल लगाकर पढ़ाते हैं। कोई उन्हें देखकर क्या सोचेगा? क्या कहेगा? इस बात से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। इनकी तस्वीर ने खूब तारीफें बटोरी हैं। तारीफ करना वाजिब भी है क्योंकि संजय सेन दिव्यांग होने के बाद भी बच्चों को शिक्षा देने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। उन्हें दिव्यांग होने का कभी अहसास ही नहीं होता है।

तस्वीर बताती है कि बिना सुविधाओं के भी संजय छात्रों को पढ़ाने में किस कदर मशगूल हैं। फोटो में आप देख सकते हैं कि संजय अपने पैरों पर खड़े नहीं हो सकते लेकिन इसके बावजूद भी वह ब्लैक बोर्ड पर लिखकर छात्रों को पढ़ाने में लगे हुए हैं। 9 सितंबर को संजीब घोष नाम के एक ट्विटर यूजर ने अपने अकाउंट पर इनकी तस्वीर शेयर की थी। उन्होंने इस फोटो के साथ लिखा था कि ‘मिलिए संजय सेन से, जो दिव्यांग हैं।

वह शिक्षा संबल प्रोजेक्ट के साथ साल 2009 से राजस्थान के एक गांव के स्कूल में पढ़ा रहे हैं। सोशल मीडिया पर संजय की तस्वीर ने लोगों को भावुक भी कर दिया है। लोगों का कहना है कि- सरकार को संजय सेन के बारे में सोचना चाहिए, कम से कम उन्हें इलेक्ट्रिक व्हिल चेयर और अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध करानी चाहिए ताकि उनके जैसे तमाम लोग आगे आएं और समाज में अपना योगदान दें।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।