100 फीसदी सौर ऊर्जा से लैस होगा गुरुग्राम का ऑबराय और ट्रिडेंट हॉटल

New Delhi : प्रकृति को हरा-भरा बनाने के लिए ऑबराय और ट्रिडेंट हॉटल ने एक बड़ फैसला लिया है। दोनों हॉटल आने वाले दिनों में बिजली की आपूर्ति सूर्य ऊर्जा से करेंगे। हरियाणा के बालासर पॉवर प्लांट से दोनो हॉटलों को बिजली मिलेगी। हरियाणा का ये प्लांट 7.5 मेगावाट बिजली पैदा करता है।

सोलर पॉवर प्लांट पॉलीक्रिस्टलीन तकनीक से लैस होगी जो 25 एकड़ के क्षेत्र में फैली होगी। 27 हजार सोलर प्लांट के साथ इस पॉवर प्लांट की क्षमता 76 फीसदी है। ऑबराय और ट्रिडेंट हॉटल का लक्ष्य है कि कार्बन डाय ऑक्साइड का उत्सर्जन 12,344 टन तक कम करें।

ऑबराय हॉटल के जनरल मैनेजर अभिषेक पानशिकर ने कहा कि हमें गर्व है कि हमारा हॉटल 100 फीसदी सौर उर्जा पर काम करेगा। यह हमारा प्रकृति के लिए किया गया एक छोटा सा प्रयास है। हम अपने मेहमानों को इस बहाने अच्छी सुविधा भी देंगे।

ट्रिडेंट हॉटल के जनरल मैनेजर अमित खरे ने कहा कि सर्वे बताते हैं कि हमारे मेहमान प्राकृतिक जगह को ज्यादा पसंद करते हैं। इसलिए यह हमारे लिए प्राथमिकता का काम है। हमारे मेहमानों को जान कर खुशी होगी की वो उस हॉटल में रह रहे हैं जहां 100 फीसदी सौर ऊर्जा उपलब्ध है।

ये भी पढ़ें – पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को 11 दिनों के रिमांड पर भेजा गया

सौर ऊर्जा का इस्तेमाल कर हम प्राकृतिक समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। पूरा विश्व ग्लोबल वार्मिंग की समस्या से जूझ रहा है। हमारा ये कदम इस दिशा में एक अच्छी शुरुआत हो सकती है।

ये जानकारी एएनआई से ली गई है। एएनआई ने भी कहा है कि उनको ये जानकारी ऑबराय ग्रुप की प्रेस रिलीज से मिली है।