अब ईरान ने लिया अमेरिका से बदला, उड़ा दिया ईराक का अमेरिकी बेस

New Delhi : ईरान के जनरल क़ासिम सुलेमानी के खात्मे के बाद से भी ईरान और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। बीती देर रात बगदाद में अमेरिकी दूतावास पर ताब’ड़तो’ड़ राकेट दा’गे गए, ना सिर्फ दूतावास बल्कि अमेरिकी फौजी बेस पर भी ह’मला किया गया। इस ह’मले में किसी के मारे जाने की खबर नहीं है लेकिन इसे कासिम सुलेमानी पर ह’मले से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि आधिकारिक रूप से इस ह’मले की अभी तक किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है।

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खोमैनी के सबसे खास जनरल क़ासिम सुलेमानी की मौत के बाद जिसका अंदेशा था ठीक वैसा ही हुआ। इराक में अमेरिकी दूतावास ध’माके से दहल उठा। आधी रात से ठीक पहले बगदाद के अमेरिकी दूतावास के भीतर रॉकेट दागे गए। रॉकेट अमेरिकी दूतावास के अंदर फटा, इलाके में अफरातफरी देखी गई। ध’माके की आवाज से भगदड़ मच गई। ह’मला होते ही अमेरिकी फौज हरकत में आ गई और बगदाद के ऊपर अमेरिकी हेलिकॉप्टर गश्त करने लगे। बगदाद के ग्रीन जोन में अमेरिकी फौज के बेस पर रॉकेट ह’मले किए गए। यह ग्रीन जोन अति सुरक्षित जगह है जहां अमेरिकी दूतावास है। एक रॉकेट ग्रीन जोन के अंदर गिरा जबकि दूसरा दूतावास के बिल्कुल करीब फटा।

अमेरिकी सुरक्षा कवच से लैस इस इलाके में अमेरिका का दूतावास तो है ही, इसके साथ ही तमाम सरकारी इमारतें हैं। सुरक्षा के लिहाज से ये इलाका अभेद दुर्ग से कम नहीं है लेकिन यहां भी ह’मलावर रॉकेट दागने में कामयाब रहे। सिर्फ अमेरिकी दूतावास ही नहीं बगदाद से करीब 80 किलोमीटर दूर बलाद एयरफोर्स बेस पर भी दो रॉकेट दा’गे गए। यह अमेरिकी सुरक्षा बलों का सैन्य ठिकाना है। सुरक्षाबलों ने दावा किया है कि इन दोनों ह’मलों में कोई नुकसान नहीं हुआ है और ह’मलावरों का नि’शाना खाली गया।