बिहार में सुशील मोदी ने राजनीतिक अटकलों को किया साफ, कहा- नीतीश ही रहेंगे बिहार के कैप्टन

New Delhi: मंगलवार को बिहार की राजनीति उस वक्त गरमा गई जब भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने नीतीश कुमार के नेतृत्व को आने वाले विधानसभा चुनावों में बदलने की बात कही। इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थक भड़क गए और भाजपा पर स्थिति से दिग्भ्रमित करने का आरोप लगाया। इन सभी राजनीतिक अटकलों को समाप्त करते हुए खुद बिहार के उपमुख्यमंत्री ने बुधवार को सफाई दी और नीतीश कुमार को ही बिहार का कैप्टन बताया।

सुशील मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा “नीतीश कुमार बिहार में एनडीए के कैप्टन हैं और अगले विधानसभा चुनाव में भी कैप्टन बने रहेंगे। जब वो कैप्टन के रूप में चौके और छक्के मार रहे हैं और इनिंग से प्रतिद्वंद्वियों को मात दे रहे हैं, तो बदलाव का कोई सवाल नहीं है।”

राज्य विधान परिषद के एक सदस्य पासवान ने मंगलवार को कहा था कि नीतीश 15 साल तक राज कर चुके हैं अब उन्हें दूसरे छोटे नेताओं को मौका देना चाहिए और उन्हें अब केन्द्रीय राजनीति में जगह तलाशनी चाहिए। भाजपा नेता का ये बयान नीतीश कुमार की अगुवाई वाली जनता दल-यूनाइटेड और विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के बीच शुरू हुए पोस्टर वॉर के बाद आया था।

शुरू हुए पोस्टर वॉर में जेडी-यू ने नारा लगाया था “क्यों करें विचार जब हैं ही नीतीश कुमार जिसके विरोध में आरजेडी ने नारा लगाते हुए पोस्टर लगाया क्यों न करें विचार जब बीमार है बिहार।