नीतीश कुमार ने लू मामले में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की,अभी तक 200 से ज्यादा मौ’तें हो चुकी हैं

New Delhi : गुरुवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज जाकर लू से पी’ड़ित मरीजों से मुलाकात की थी। वहां उन्होंने डॉक्टरों और अधिकारियों से स्थिति के बारे में जानकारी ली।

मरीजों से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने लू मामले में समीक्षा बैठक की। जिसमें उन्होंने लू से म’रने वाले मरीजों और इससे निपटने के प्रयासों की जानकारी ली।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के लू प्र’भावित इलाकों का तय हवाई सर्वेक्षण र’द्द कर दिया था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लू प्रभावित जिलों ओरंगाबाद, गया और नवादा का हवाई दौरा र’द्द कर दिया था। नीतीश कुमार ने लू से पी’ड़ित मरीजों से गया के अनुग्रह नारायण मेडिकल कॉलेज जाकर मुलाकात किया।

बुधवार को खबर आ रही थी कि नीतीश कुमार हवाई सर्वेक्षण करके लू प्र’भावित इलाकों का जायजा लेंगे। लेकिन गुरुवार को उनका ये कार्यक्रम र’द्द कर दिया गया।

आपको बता दें कि बिहार के कई जिले लू से प्र’भावित हैं। अबतक पूरे बिहार में लू से 200 से भी ज्यादा लोगों की मौ’त हो चुकी है। गया, ओरंगाबाद और नवादा लू से सबसे ज्यादा प्र’भावित इलाके हैं।

17 जून को गया में इस स्थिति को देखते हुए धारा-144 लगा दी गई थी। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार गया में ही अबतक 184 लोगों की लू से मौ’त हो चुकी है। बहुत सारे मरीज अभी भी अस्पताल में भर्ती है।

ये भी पढ़ें – नीतीश कुमार ने लू प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण र’द्द किया,अस्पताल जाकर मरीजों से करेंगे मुलाकात

गया, पटना सहित कुछ जिलों में पारा 45 तक पहुंच गया है जिससे लोग लू की चपेट में आ रहे हैं। आपको बता दें कि बिहार इन दिनों लू के साथ-साथ चमकी बुखार से भी जूझ रहा है। बिहार के मु़जफ्फरपुर में चमकी बुखार से अबतक 100 से भी ज्यादा मासूम बच्चों की मौ’त हो चुकी है।