वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक्सपोर्ट और हाउसिंग सेक्टर के लिए किए कई अहम ऐलान

New Delhi : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेस की। वित्त मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेस को संबोधित करते हुए टैक्स राहत, एक्सपोर्ट और घर खरीदारों के मुद्दे पर जानकारी दी। निर्मला सीतारमण ने बताया कि 45 लाख रुपये तक के मकान को खरीदने पर टैक्स में छूट के फैसले का फायदा रियल एस्टेमट सेक्टार को मिला है।

उन्होंने आगे कहा कि महंगाई काबू में है, महंगाई दर अभी 4 फीसदी से नीचे है। उन्होंने आगे कहा कि 19 सितंबर को पब्लिक सेक्टर बैंकों के अधिकारियों से मुलाकात करूंगी।

वित्त मंत्री ने एक्सपोर्ट को बूस्ट करने के 6 कदम भी बताए हैं। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने आगे कहा कि इकोनॉमी की हालत सुधर रही है, इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन की हालत भी सुधर रही है। जीएसटी आईटीसी रिफंड के लिए जल्द ही पूरी तरह से इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम शुरू हो जाएगा। वित्त मंत्री आगे कहा कि एक्सपोर्ट को बढ़ावा देने के लिए आयोजन वार्षिक मेगा शॉपिंग फेस्टिवल का पूरे देश के चार जगहों पर आयोजन किया जाएगा। यह आयोजन मार्च 2020 से शुरू होगा। जेम्स एंड ज्वेलरी, योगा एवं टूरिजम, टैक्सटाइल और लेदर क्षेत्र में ये आयोजन होगा।

उन्होंने आगे कहा कि निर्यात की क्वालिटी को बेहतर किया जाएगा। हम इसपर काम कर रहे हैं ताकि समयबद्ध तरीके से हम स्टैंडर्ड हासिल कर सकें। तय वक्त में स्टैंडर्ड सेट किया जाएगा। वाणिज्य मंत्रालय इसके लिए एक ग्रुप बनाएगा।

आपके बता दें कि कुछ दिनों पहले वित्त मंत्री ने कहा था कि कहा है कि ऑटो सेक्टर में इसलिए मंदी है कि क्योकिं लोग ओला और उबर को तवज्जों दे रहे है। वित्त मंत्री ने कहा था कि ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री BS6 स्टैंडर्ड और मिलेनियल्स के माइंड सेट से प्रभावित है और मिलेनियल आजकल गाड़ी खरीदने की जगह ओला-उबर को तवज्जो दे रहे हैं।