PM मोदी के बयान की साध्वी निरंजन ने खोली पोल, कहा- किसानों की आय दोगुनी करने की कोई योजना नहीं

NEW DELHI: एक तरफ कांग्रेस मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सरकार बनाने के बाद अपने किए हुए वादों को पूरा कर मोदी सरकार पर हमला कर रही है। वहीं मोदी सरकार के ही मंत्री अपने ही सरकार के लुटिया डुबोने में लगे हुए हैं। दरअसल, किसानों का कर्जामाफ कर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम मोदी पर जमकर हमला कर रहे हैं। वहीं चुनाव प्रचार में पीएम नरेंद्र मोदी और उनके मंत्री अब तक यह दावा करते आए कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए मोदी सरकार योजना बना रही है। लेकिन, अब इस दावे की पोल उन्हीं के मंत्री ने खोल दी है।

दरअसल, शीतकालीन सत्र के दौरान एक सवाल के जवाब में केन्द्रीय राज्य मंत्री के रूप में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय संभाल रही साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा है कि सरकार की ओर से खाद्य प्रसंस्करण के जरिए किसानों की आय को दोगुनी करने की कोई योजना सरकार नहीं बना रही है। साध्वी निरंजन का बयान ऐसे समय में आया, जब पीएम मोदी खुद अपने बयान में कह रहे हैं कि उनकी सराकर 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की योजना बना रही है।

,Niranjan Jyoti

जानकारी के मुताबिक, किसानों को लेकर सांसद आर पार्थिपन और जोएस जॉर्ज ने सरकार से कुछ सवाल पूछे थे। इन्हीं सवालों में उनका एक सवाल था कि क्या खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री यह बताएंगी कि सरकार खाद्य प्रसंस्करण के जरिए किसानों की आय को दोगुना करने की कोई योजना बना रही है? अगर हां तो ब्यौरा क्या है? इस पर 18 दिसंबर को दिए गए लिखित में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने नहीं में जवाब दिया। इसका मतलब यह है कि किसानों की आय दोगुनी करने को लेकर सरकार कोई योजना नहीं बना रही है।

साध्वी निरंजन ज्योति के इस जवाब से सरकार के सारे दावे झूठे साबित हुए हैं। इससे पहले 20 जुलाई को पीआइबी की ओर जारी एक विज्ञप्ति में 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य तय करने की बात कही गई थी। यही नहीं उसमें किसानों की आय दोगुनी करने के लिए अंतर मंत्रालई समिति गठित करने की जानकारी भी दी गई थी। ऐसे में सवाल यह है कि क्या सरकार ने यह सारी सूचनाएं गलत दी थीं?