सुशांत केस में नया खुलासा- एम्बुलेंस को रास्ते में मिला निर्देश, नानावटी नहीं कूपर हॉस्पिटल जाओ

New Delhi : सुशांत केस में पल-पल नये खुलासे हो रहे हैं। टेलीविजन न्यूज चैनल टाइम्स नाऊ से बात करते हुये एम्बूलेंस के ड्राइवर ने कहा वहां बहुत अफरातफरी थी। उन्होंने कहा कि कई बार फैसलों में उलझन हो रही थी। अभी तक सुशांत के लॉस्ट सीन को लेकर कई तरह की कान्स्पीरेसी थ्योरी सामने आ रही है। कहा जा रहा है कि सुशांत मामले के मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को पॉलिटकल संरक्षण प्राप्त है और बिहार पुलिस से छिपने में भी इसी पालिटकल पहुंच की वजह से उसे मुम्बई पुलिस का सहयोग मिल रहा है।

बहरहाल एक न्यूज चैनल से बात करते हुये एम्बुलेंस के ड्राइवरों ने कहा- जब हम मौका ए वारदात पर पहुंचे तो सुशांत की बॉडी को कपड़े से रैप किया जा चुका था। फिर हमलोगों को कहा गया बॉडी को लेकर नानावटी हॉस्पिटल जाओ। हमलोग वहां से रवाना हो गये लेकिन रास्ते में एकाएक कहा गया कि नहीं नानावटी हॉस्पिटल नहीं जाना है। तुमलोग बॉडी को लेकर कूपर हॉसपिटल पहुंचो और फिर हमलोग कूपर चले गये।
इधर इस मामले में रिया चक्रवर्ती के ठिकाने का पता पटना पुलिस ने लगा लिया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक पटना पुलिस जब से मुम्बई पहुंची है तब से रिया अपने तीन ठिकाने बदल चुकी है। अब रिया पर पटना पुलिस की सख्त निगहबानी है। अगर मुम्बई पुलिस का सपोर्ट होता तो हालात दूसरे होते लेकिन सपोर्ट न मिलने के बाद भी रिया पर बड़ी कार्रवाई को लेकर तैयारियां चल रही हैं।

वैसे सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने आज 1 अगस्त को एक वीडियो संदेश जारी कर मुम्बई पुलिस पर लापरवाही के आरोप लगाये। उन्होंने कहा- 25 फरवरी को मुम्बई पुलिस से शिकायत की थी। इसमें आशंका व्यक्त की थी कि सुशांत के साथ कुछ गलत हो सकता है। उस वक्त मुम्बई पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया। फिर जून में जब बेटा सुशांत नहीं रहा तो पुलिस से कहा कि आप मेरे फरवरी वाले आरोप पर ही कार्रवाई कीजिये। लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया गया जिससे एहसास हो कि मुझे न्याय मिलेगा।
फिर मैंने पटना लौटने के बाद राजीव नगर पुलिस में अपनी शिकायत दर्ज कराई और इंसाफ मांगा। मेरी शिकायत पर बिहार पुलिस हरकत में आई। तो मुम्बई पुलिस को सहयोग करना चाहिये। सभी लोगों को इंसाफ दिलाने में बिहार पुलिस की मदद करनी चाहिये। इधर राजद नेता तेजस्वी यादव ने आज कहा – नीतीश सरकार के ढुलमुल रवैये की वजह से बिहार के पुलिस अफसरों को मुम्बई में अपमान का सामना करना पड़ रहा है।

भारतीय जनता पार्टी के विधायक और सुशांत सिंह राजपूत के रिश्तेदार नीरज सिंह ने बिहार विधानसभा में सुशांत प्रकरण की जांच सीबीआई के हवाले करने का अनुरोध किया है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने भी उनका समर्थन करते हुये इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की गई है। नीरज सिंह की पत्नी विधान पार्षद‍् नूतन सिंह ने भी बिहार विधान परिषद‍् में सुशांत केस की जांच सीबीआई से कराने का मुद्दा उठाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 5 = eleven