नेहा कक्कड़ बोलीं – बॉलीवुड में सिंगर्स को नहीं मिलती फीस, बताया – फिर ऐसे कमाते हैं पैसे

New Delhi : बॉलीवुड में कई हिट सॉन्ग्स देने वालीं नेहा कक्कड़ ने हाल ही में कुछ ऐसा कहा है जिसे सुनकर आप शॉक्ड हो सकते हैं। नेहा ने हाल ही में एक वेबसाइट से बात करते हुए बताया कि बॉलीवुड में उन्हें गाने के पैसे नहीं मिलते। नेहा ने कहा, बॉलीवुड हमें गाने के पैसे नहीं देती है। उन्हें लगता है कि अगर हम कोई सुपरहिट सॉन्ग दे रहे हैं तो हम शोज से पैसा कमा लेंगे। लाइव कॉन्सर्ट्स के जरिए मैं अच्छा कमा लेती हूं, लेकिन बॉलीवुड से नहीं।

एक तरफ नेहा कक्कड़ का पुराना घर और अभी हाल में तैयार हुआ बंगला


वैसे नेहा कई लाइव शोज और टीवी शो में बतौर जज भी नजर आती हैं। पिछले दिनों वह इंडियन आइडल के शो को जज करती नजर आई थीं। इस दौरान उनकी और आदित्य नारायण की शादी काफी सुर्खियों में रही थी। नेहा ने आगे कहा – लाइव कॉन्सर्ट्स और बाकी चीजों से मेरी अच्छी कमाई हो जाती है। लेकिन बॉलीवुड में ऐसा कोई सीन नहीं होता। गाने के लिए वे हमें भुगतान नहीं करते। 31 साल की नेहा ने बॉलीवुड में ‘सेकंड हैंड जवानी’ (कॉकटेल), ‘काला चश्मा’ (बार-बार देखो), ‘दिलबर’ (सत्यमेव जयते), ‘साकी’ (बाटला हाउस), ‘आंख मारे’ (सिम्बा) और ‘गर्मी’ (स्ट्रीट डांसर) जैसे हिट गाने दिए हैं। वर्क फ्रंट की बात करें तो नेहा का अगला गीत ‘मास्को सुका’ यो यो हनी सिंह के साथ है। यह गीत 12 अप्रैल को रिलीज होगा। इस गीत का कुछ हिस्सा रशियन भाषा में होगा, जिसे एकाटेरिना सिज़ोव ने आवाज दी है।
दरअसल, शो में नेहा और आदित्य की शादी का फॉर्मेट चल रहा था जिसमें शादी की हर रस्म को फॉलो किया गया। हालांकि बाद में दोनों ने यह क्लीयर कर दिया था कि शो में जो दोनों की शादी की बात चल रही थी वो सिर्फ टीआरपी के लिए था। दोनों बस अच्छे दोस्त हैं। कुछ दिनों पहले नेहा ने ऋषिकेश स्थित अपने बंगले की फोटो शेयर की थी। इस फोटो को शेयर करते हुए नेहा ने लिखा था – यह हमारा बंगला है जो ऋषिकेश में है और दूसरी तस्वीर उस घर की है जहां मेरा जन्म हुआ था। इस घर में हमारा कक्कड़ परिवार रहता था जहां मेरी मां ने एक टेब लगाई हुई थी जो उस छोटे कमरे में वो हमारी रसोई थी। वो कमरा भी हमारा नहीं था, हम उसका किराया देते थे। और अब जब भी उसी शहर में मैं हमारा बंगला देखती हूं तो भावुक हो जाती हूं। मेरे परिवार, भगवान और फैंस को इसके लिए शुक्रिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighty three − = seventy seven