हैदराबाद गैं’गरे’प से पूरे देश में गु’स्सा, उपराष्ट्रपति बोले-और स’ख्त हो कानून

New Delhi :  हैदराबाद में महिला डॉक्टर से हैवा’नियत और फिर ह’त्या के मामले ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है। सड़क से संसद तक गैंगेरे’प के चारों आरो’पियों को फां’सी देने की मांग की जा रही है। देश में रेप के बढ़ते मामले और इसकी संवदेनशीलता को देखते हुए अब केंद्र सरकार इस पर निर्भया के बाद एक बार फिर सख्त कानून बना सकती है और रे’प केस में आरोपियों को सख्त सजा के दायरे में लाने के लिए उम्र की सीमा को घटाया जा सकता है।

महिला डॉक्टर के साथ घिनौनी वारदात को लेकर राज्यसभा के सभापति और उप राष्ट्रपति  एम। वेंकैया नायडू ने भी बलात्कारियों को सख्त से सख्त सजा मिलने का समर्थन किया है। सोमवार को सदन की कार्यवाही के दौरान उन्होंने कहा कि अगर जघन्य अपराध जारी रहते हैं तो सजा देने के लिए दुष्कर्मी की आयु के मुद्दे पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए।

इसके साथ ही वेंकैया नायडू ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों पर नए बिल की जरूरत नहीं है। जो जरूरत है वह है राजनीतिक इच्छाशक्ति, प्रशासनिक कौशल और मानसिकता में बदलाव की।

राज्यसभा में हैदराबाद गैंगरेप को लेकर जया बच्चन ने विरोध जताते हुए कहा कि ऐसे मामलों पर मैं पता नहीं कितनी बार बोल चुकी हूं। सरकार को अब कार्रवाई करनी चाहिए। एक दिन पहले ही हैदाराबाद में उसी जगह हादसा हुआ था। कुछ देशों में जनता दोषियों को सजा देती है। दोषियों को अब जनता ही सबक सिखाए। उन्होंने कहा कि दोषियों की सार्वजनकि लिंचिंग होनी चाहिए।