नारकोटिक्स ब्यूरो को शक- रिया है ड्रग गिरोह में शामिल, मामला दर्ज, सैंपल लिये जायेंगे, पूछताछ होगी

New Delhi : सुशांत सिंह राजपूत प्रकरण में छाया कुहासा अब धीरे-धीरे छंटने लगा है। तस्वीर साफ होने लगी है। और यह भी स्पष्ट दिखने लगा है कि सुशांत के खिलाफ बड़ा षड‍्यंत्र हुआ। षड‍्यंत्र की मुख्य सूत्रधार के रूप में उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती का नाम उभर गया है। नारकोटिक्स ब्यूरो ने रिया चक्रवर्ती और उसके द्वारा सुशांत की सेवा में नियुक्त किये गये कारिंदों पर केस दर्ज कर लिया है। मानवाधिकार आयोग ने कूपर हॉस्पिटल को नोटिस जारी कर पूछा है कि आखिर किस हैसियत और किन परिस्थितियों में रिया चक्रवर्ती को मॉर्चरी तक जाने दिया गया।

सीबीआई भी सुशांत के स्टाफ और उनके दोस्तों पर शिकंजा कसते जा रही है। पूछताछ की दिशा से ऐसा लग रहा है कि सीबीआई ने षडयंत्र की नब्ज पकड़ ली है। एम्स के डाक्टरों की बोर्ड ने सीबीआई को अंतिम अनुशंसा करने से पहले सवालों के साथ बैठक कर पूरा निष्कर्ष तैयार करने का निर्णय लिया है लेकिन इस बीच सीबीआई को संकेत दे दिये हैं कि सुशांत के चाहनेवालों और परिजनों की शंका एकदम सही है। कूपर हॉस्पिटल की रिपोर्ट ठीक नहीं। सीबीआई के डर से अटॉप्सी करनेवाले एक डॉक्टर के फरार होने की भी सूचना है।
सुशांत के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी से लगातार पांचवें दिन पूछताछ की जा रही है। ड्रग्स एंगल को लेकर रिया चक्रवर्ती की चैट सामने आने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने मामला दर्ज किया है। रिया से पूछताछ होगी और सैंपल भी लिये जायेंगे। वैसे रिया के वकील सतीश मानशिंदे ने ड्रग्स की थ्योरी को खारिज करते हुये कहा – इस मामले में रिया किसी भी जांच से गुजरने को तैयार हैं। उन्होंने कभी ड्रग्स नहीं ली। प्रवर्तन निदेशालय ने रिया के वॉट्सऐप से डिलीट की गई चैट सीबीआई के साथ-साथ नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को भी सौंपी है। इस चैट रिकॉर्ड को रिया के मोबाइल फोन से रिकवर किया गया है। ईडी ने इसे 10 अगस्त को जब्त किया था। इसमें रिया की तरफ से ड्रग्स की बात किये जाने का जिक्र है।

सूत्रों के मुताबिक सीबीआई की बीते 5 दिनों की जांच में पिठानी सबसे बड़ा संदिग्ध है। सुशांत के कथित दोस्त संदीप सिंह से भी जल्द पूछताछ होने की संभावना है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) संदीप को समन भेजेगा। सुशांत के बाद संदीप अचानक पिक्चर में आये थे और घर से लेकर पोस्टमार्टम रूम तक देखे गये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + = nineteen