जेटली के निधन पर गौतम गंभीर बोले-मेरे पिता समान थे अरुण जेटली..उनके साथ मेरा एक हिस्सा चला गया

New Delhi : पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता Arun Jaitley का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया। उनके निधन पर पूर्व भारतीय बल्लेबाज और सांसद Gautam Gambhir ने गहरा दुख जताया है। अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर उन्होंने लिखा है कि “एक पिता आपको बोलना सिखाता है लेकिन एक पिता आपको आंकड़ा बोलना सिखाता है। एक पिता आपको चलना सिखाता है लेकिन एक पिता आपको आंकड़ा मार्च करना सिखाता है। एक पिता आपको एक नाम देता है, लेकिन एक पिता का आंकड़ा आपको एक पहचान देता है। मेरे पिता श्री अरुण जेटली जी के साथ मेरा एक हिस्सा चला गया है। RIP सर।”

आपको बता दें कि अरुण जेटली का ट्रीटमेंट एंडोक्रिनोलोजिस्ट नेफ्रोलॉजिस्ट और कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टरों की देखरेख में चल रहा था। कार्डियोलॉजी के हेड ऑफ डिपार्टमेंट डॉक्टर वीके बहल की निगरानी में अरुण जेटली का इलाज चल रहा था। खबर थी की जेटली को सांस लेने में दिक्कत हुई थी जिसके बाद उन्हें चैकअप के लिए अस्पताल लाया गया।

अरुण जेटली का हाल जानने के लिए गृह मंत्री अमित शाह और लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी एम्स पहुंचे थे।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले काफी समय से अरुण जेटली अस्वस्थ चल रहे थे। और इसी वजह से दूसरी मोदी सरकार की कैबिनेट में शामिल होने से उन्होंने इनकार कर दिया था। अरुण जेटली ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर मंत्रिमंडल में शामिल होने से मना कर दिया था।

अरुण जेटली ने ट्विटर पर चिट्ठी को शेयर करते हुए लिखा था, ‘पिछले 18 महीने से मैं बीमार हूं। मेरी तबीयत खराब है, इसलिए मुझे मंत्री न बनाने पर विचार करें।’ 30 मई को पीएम मोदी और उनके मंत्रिमंडल शपथ ली थी।