पायल तड़वी ह’त्याकां’ड: मुंबई की क्रा’इम ब्रांच ने आरो’पी डॉक्टरों के खिलाफ दायर किया आरोपपत्र

NEW DELHI: पायल तड़वी ह’त्याकां’ड मामले में मुंबई की Crime Branch ने बड़ा कदम उठाया है जिससे आरोपी डॉक्टरों को बड़ा झट’का लगा है।

मुंबई क्रा’इम ब्रांच ने तीनों आरो’पी डॉक्टरों हेमा आहूजा, भक्ति मेहरे और अंकिता खंडेलवाल के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत आ’त्महत्या के लिए उकसाने और सबूत न’ष्ट करने से संबंधित आ’रोपपत्र दायर किया है।

कर्नाटक बवा’ल पर BJP के ऊपर बरसी प्रियंका, कहा- ‘हर झूठ अंततः सामने आ ही जाता है’

पायल तड़वी सुसा’इड: फॉरेंसिक विभाग ने की पुष्टि, आरोपियों ने न’ष्ट किया था सुसा’इड नोट

 

आरोपी डॉक्टरों ने दायर की थी जमानत याचिका-

सपा विधायक नाहिद हसन के बिगड़े बोल पर दर्ज हुआ केस,कहा था BJP समर्थक दुकानदारों का करो बहिष्कार

डॉ पायल तड़वी ह’त्याकां’ड मामले में Bombay High Court ने तीनों आ’रोपी डॉक्टरों की याचिका पर सुनवाई को स्थगित कर तारीख बढ़ा दी है।

तीनों आरो’पी डॉक्टरों ने अपनी जमानत के लिए याचिका दायर की थी। अब इस मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट 25 जुलाई को सुनवाई करेगा।

क्या है पायल तड़वी खुद’कुशी मामला

कथित तौर पर रैगिं’ग और जातीय टिप्पणी से परेशान होकर खुद’कुशी करने वाली डॉ. पायल तडवी के मामले में पुलिस ने 28मई को पहली गिर’फ्तारी की थी। मुम्बई पुलिस ने इस मामले में डॉक्टर भक्ति मेहर को गिर’फ्तार किया था। डॉ. तडवी की आत्म’हत्या के बाद से भक्ति मेहर फ’रार चल रही थी। भक्ति मेहर के अलावा दो अन्य डॉक्टरों पर भी डॉ. तडवी का जातीय आधार पर उत्पी’ड़न करने का आरो’प है। डॉ. तडवी के परिवार का आरो’प है कि डॉक्टरों ने उनके अनुसूचित जनजाति का होने को लेकर ताने कसे थे जिसके बाद परेशान होकर पायल ने आत्मह’त्या कर ली थी।