मुंबई : नाले ने फिर ली 7 वर्षीय मासूम की जा’न, एक हफ़्ते में इस तरह की तीसरी घ’टना

New Delhi : मुंबई में नगर प्रशासन की लापरवाही के कारण एक और बच्चे की नाले में गिरने से मौ’त हो गई। सोमवार को मुंबई के धारावी इलाके में राजीव गांधी कॉलोनी के पास एक नाले में बाद गिरने सात वर्षीय मासूम अमित की मौ’त हो गई। स्थानीय लोगो की सुचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और अमित मुन्नालाल जायसवाल को बचाया जिसके बाद अमित को सायन अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृ’त घोषित कर दिया।

गौरतलब है कि मुंबई में एक सप्ताह के भीतर डू’बने की यह तीसरी घटना है। इससे पहले शुक्रवार को वर्ली में तटीय सड़क के निर्माण स्थल के पास गड्ढे खोदे गए थे। गड्ढे में पानी भरा हुआ था। गड्ढे में गिरने से 12 वर्षीय लड़के की मौ’त हो गई थी। उसके माता-पिता का कहना है कि बीएमसी ने गड्ढा खोदा था। दुर्घ’टना होने के बाद, एक बोर्ड लगाया गया था। उसके बाद वहां पर एक चौकीदार को तैनात किया गया था। उनका आ’रोप है कि ये सुविधाएं दुर्घ’टना होने से पहले करनी चाहिए। प्रशासन की नींद हमेशा कुछ बुरा होने के बाद ही खुलती है। बुरा होने का इंतजार कर रही प्रशासन की वजह से हमारे बच्चे ने अपनी जा’न गंवा दी।

बता दें कि मुबंई के गोरेगांव में भी एक तीन साल का बच्चा गटर में गिर गया था। रात करीब 10:24 बजे गटर में गिरा। रेस्क्यू ऑपरेशन होने के बाद भी अब तक दिव्यांशु को  ढूंढा नहीं जा सका। माता -पिता को एक उम्मीद थी कि उनका बेटा जरूर मिल जाएगा। लेकिन अब उनकी उम्मीद बुझ गई है। लगातार खोज में लगी रेस्क्यू टीमों ने भी अब हार मान थी । उन्होंने बच्चे को ढूंढने की पुरजोर कोशिश की लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी।