MOTHERS DAY: राजनीति की सुपर MOMs, कितनी ही बिजी क्यों ना हो बच्चों के लिए टाइम निकाल लेती हैं

New Delhi: Mothers Day… एक ऐसा दिन जब हर कोई अपनी MOM को याद करता है। इस दिन बच्चे अपने स्टाइल में अपनी मां से अपनी फीलिंग्स शेयर करते हैं। मां जैसी भी हो वह हर हाल में अपने बच्चों का ख्याल रखती है। Mothers Day के मौके पर आज हम आपको उन PowerFul Politician MOMs से मिलवाते हैं जो देश के साथ-साथ हर वक्त अपने बच्चों के साथ भी खड़ी रहीं। ये महिला राजनेता राजनीति में जितनी कामयाब हैं, उतनी ही शिद्दत से अपने बच्चों को भी कामयाबी के शिखर तक पहुंचाया।

ये MOms कितनी ही बिजी क्यों ना हो अपने परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताने के लिए वक्त निकाल ही लेती हैं।

smiriti irani-

स्मृति ईरानी कितनी ही व्यस्त क्यों ना हों, वह अपने परिवार के लिए बिजी शेड्यूल से वक्त निकाल लेती हैं। इसका सबूत स्मृति ईरानी के इंस्टा अकाउंट है। स्मृति मोस्ट पावरफुल पॉलीटिशियन के साथ-साथ केयरिंग मदर भी हैं। स्मृति ईरानी जितनी एक्टिव राजनीति में हैं, उतना ही ख्याल उन्हें अपने घर का है। स्मृ‍ति ईरानी की बेटी ने 10वीं में 82% लाकर परीक्षा पास की। बेटी के 82% लाने पर स्मृति ईरानी ने कहा था- मुझे उस पर गर्व है कि चुनौतियों के बावजूद उसने बेहतर प्रदर्शन किया। वहीं, स्मृति ईरानी के एक बेटे भी हैं। Zohr Irani। जिनमें अपनी मॉम की तरह ही फाइटिंग स्पिरिट नजर आती है।

Sonia Gandhi-

सोनिया गांधी का नाम देश की ताकतवर महिलाओं में शामिल है। राजीव गांधी की हत्या के बाद 1999 में सोनिया ने कांग्रेस के अध्यक्ष पद की कमान संभाली। कांग्रेस की कमान संभालने के बाद उन्होंने अपनी राजनीतिक विरासत अब राहुल गांधी को सौंप दी। सोनिया गांधी ने अपने बेटे राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया। प्रियंका गांधी भी अपने भाई राहुल का ताकत के साथ.. साथ दे रही हैं।
सोनिया गांधी ने तब तक बेटे राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद पर नहीं बिठाया जब तक कि वे इस बात के लिए निश्चिंत नहीं हो गई कि राहुल अब पार्टी संभालने लायक बन चुके हैं।

Menka Gandhi-

मेनका गांधी देश के सबसे बड़े राजनीतिक घराने गांधी परिवार की बहू हैं। जब संजय गांधी की मौत हुई तो बेटे वरुण सिर्फ 3 महीने के थे। अपनी मां की तरह वरुण गांधी भी एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं। वो भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य और पार्टी के इतिहास में सबसे युवा राष्ट्रीय महासचिव हैं।

Priyanka Gandhi-

प्रियंका गांधी के दो बच्चे मिराया और रेहान हैं। बेटी बास्केटबॉल प्लेयर है तो बेटे को शूटिंग में इंट्रेस्ट है। कहते हैं नेता के बच्चे नेता ही बनते हैं,  लेकिन प्रियंका गांधी का मामला अलग है। इनके दोनों बच्चों का स्पोर्ट्स में इंट्रेस्ट है।  प्रियंका  कितनी ही व्यस्त क्यों ना हो वह अक्सर अपने बच्चों को सपोर्ट करती हैं उनके गेम्स देखने भी पहुंच जाती हैं। दोनों बच्चे देहरादून में पढ़ाई कर रहे हैं। रेहान दून स्कूल में जबकि, मिराया वेलहम गर्ल्स स्कूल में हैं। देहरादून से गांधी परिवार का पुराना लगाव रहा है। राजीव गांधी और राहुल गांधी ने भी यहीं से भी पढ़ाई की थी।

Dimple Yadav- 

Dimple Yadav जितनी सौम्य, सरल और मिलनसार हैं उतना ही उन्हें अपने बच्चों का ख्याल है। डिंपल यादव ने अपनी काबिलियत के दम पर आज ऐसा मुकाम हासिल किया है कि वह अब अखिलेश यादव के बाद समाजवादी पार्टी में दूसरे नंबर की शक्तिशाली नेता मानी जाती हैं। डिंपल और अखिलेश के तीन बच्चे हैं। टीना यादव, अर्जुन यादव और अदिती यादव। डिंपल राजनीति में कितनी ही बिजी क्यों न हो अपने बच्चों के लिए वक्त निकाल ही लेती हैं। बड़ी बेटी अदि‌ति है। डिंपल के लाडले बेटे अर्जुन और अदि‌ति ‌जुड़वां हैं। डिंपल और अखिलेश दोनों मिलकर बच्चों का ख्याल रखते हैं। दोनों के लिए उनके बच्चे ‘स्ट्रेस बस्टर’ हैं।

Rabri Devi: 

राबड़ी देवी बिहार की एक ताकतवर नेता में शुमार हैं। उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में तीन बार पदभार संभाला है।  नेता होने के साथ-साथ वह एक सामान्य गृहिणी भी हैं।  राबड़ी देवी और लालू प्रसाद यादव के दो लड़के और 7 लड़कियां हैं। राबड़ी देवी के सभी 9 बच्चे कामयाब हैं। बेटे तेज प्रताप ने 12वीं तक की पढ़ाई की। सबसे छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने 9वीं तक। बेटी राजलक्ष्मी ने ग्रेजुएशन किया है।  बेटी रागिनी   और अनुष्का ने भी ग्रेजुएशन किया है। बेटी हेमा ने इंजीनियरिंग की है। रोहिणी और मीसा ने MBBS किया है। सभी बेटियां उनके बेटों से ज्यादा पढ़ी लिखी हैं।

Sushma Swaraj:

तेज-तर्रार नेता सुषमा स्वराज जिनका राजनीति में स्टाइल ही अनोखा है। माथे पर बड़ी सी लाल बिंदी , खुशनुमा चेहरा और आंखों में चमक ही उनका स्टाइल है। अब तक करीब 80000 से ज्यादा भारतीयों की मदद कर चुकी हैं। सुषमा स्वराज की बेटी Bansuri Swaraj बैरिस्टर हैं। वह ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से गेजुएट हैं। बांसुरी घर की एकलौती संतान हैं। ललित मोदी के मामले के खुलासे के बाद बांसुरी भी चर्चा का विषय बन गई।  उन्होंने 2010 में ललित मोदी की तरफ से हाईकोर्ट में केस लड़ा था।

Sheila Dixit-

शादी से पहले Sheila Dixi का नाम शीला कपूर हुआ करता था।  शीला दीक्षित ने हैट्रिक मारकर तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री चुनी गईं।इसके बाद अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने 2013 में शीला दीक्षित को पार्टी से बेदखल कर दिया। बाद में वह केरल की राज्यपाल बनीं लेकिन 2014 में NDA सरकार आने के बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

Nirmala Sitaraman

निर्मला सीतारमन शक्तिशाली महिलाओं में शुमार हैं। निर्मला सीतारमण की बेटी का नाम वांगमयी परकाल है। सीतारमन और फ्रांस की फ्लोरेंस पार्ली ही ऐसी 2 महिलाएं हैं जो परमाणु शस्त्र संपन्न देशों के रक्षा मंत्रालयों की प्रमुख हैं। पार्ली से पहले इस पद पर सिल्वी गोलार्ड थीं, जिन्होंने 2 महीने से भी कम समय में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

Pratibha Patil

भारत के इतिहास में राष्ट्रपति पद पर बैठने वाली भारत की एकमात्र महिला का नाम प्रतिभा पाटिल है। प्रतिभा पाटिल का पूरा नाम प्रतिभा देवीसिंह पाटिल हैं। प्रतिभा पाटिल के 2 बच्चे है। बेटे का नाम श्री राजेंद्र सिंह और बेटी का नाम श्रीमती ज्योति राठौड़ है।

 

 

The post MOTHERS DAY: राजनीति की सुपर MOMs, कितनी ही बिजी क्यों ना हो बच्चों के लिए टाइम निकाल लेती हैं appeared first on Live Prajatantra.