बच्चे को कार में रोता छोड़ गयी मां, पुलिस ने निकाला बाहर, दायर हो सकता है मुक’दमा

New Delhi: दुकान से श’राब खरीदने की जल्दबाजी में महिला ने अपने बच्चे की जा’न को ख’तरे में डाल दिया। ओक्लाहोमा की यह घटना सामने आयी है। एक महिला ने अपने 14 महीने के बच्चे को 15 से 20 मिनट के लिए एक कार में छोड़ दिया था। उसके बाद वह कार पार्क कर सामने की श’राब की दुकान से श’राब खरीदने चली गई। बच्चे के कार में बंद होने की खबर मिलने के बाद शाम साढ़े 6 बजे के बाद ओवास्सो पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि इग्निशन में कोई चाभी नहीं थी। कोई हवा नहीं चल रही थी। सामने की खिड़कियां भी 1 से 2 इंच नीचे लुढ़की हुई थीं। रिपोर्ट में बच्चे को लाल क्लैमी स्किन टोन का बताया गया है। साथ ही यह भी कहा कि बच्चे को बार-बार पसीने आ रहे थे और वह रोए जा रहा था।

जब अधिकारी स्टोर की पार्किंग में पहुंचे, तो उन्हें बॉडी-कैम फुटेज पर यह सुनने को मिला कि एक महिला ने बच्चे को शुरू में कार के फर्श में पड़े देखा था। फुटेज में उन्होंने सुना कि मैं उसे सुन सकती हूं, लेकिन मैं उसे अब नहीं देख सकती। उसने अधिकारियों को बताया जब वे बंद वाहन में बैठे और दरवाजे खोलने का प्रयास किया।

कुछ समय के बाद बॉडी-कैम फुटेज पर मां सहित दो महिलाओं को स्टोर छोड़ते हुए देखा गया। पुलिस ने मां की पहचान ओक्लाहोमा की 24 साल की ग्रेचेन ऐनी मार्कोविक्स के रूप में की है। पुलिस अधिकारी ने महिला से पूछा क्या यह आपकी कार है। महिला ने जवाब में हां कहा। कार के अंदर से एक बच्चे को रोते हुए सुना जा सकता है और इसे अभी खोलें, पुलिस ने कहा। जब कार का दरवाजा खोला गया और बच्चे को निकालकर महिला को गिर’फ्तार किया गया। अपनी सफाई में महिला ने कहा कि उसने एसी ऑन किया था। बच्चे को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है।