राजस्थान में बारिश से सड़कें हुईं बंद,स्कूल में भारी संख्या में फंसे पड़े हैं छात्र और शिक्षक

New Delhi: राजस्थान में भारी बारिश ने बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न कर दी है। चित्तौड़गढ़ के एक स्कूल में कल से ही शिक्षक और छात्र फंसे पड़े हैं। स्कूल में 350 से अधिक छात्र और 50 शिक्षक फंस हुए हैं। राणा प्रताप बांध से पानी के भारी डिस्चार्ज के कारण सारी सड़कें बंद हो चुकी हैं। यातायात में बाधाओं ने नई समस्या खड़ी कर दी हैं। स्थानीय लोग छात्रों और शिक्षकों को तत्काल सहायता और भोजन प्रदान करने में लगे हुए हैं।

प्रतापगढ़ जिले के कुछ हिस्सों में जाखम और माही नदियों के जल स्तर में वृद्धि के कारण लोगों को बाढ़ जैसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। कोटा, झालावाड़ जैसे क्षेत्रों में हालात और ही बुरी स्थिति में है। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और सेना की टीम राहत व बचाव कार्यों में जुटी हुई है।

आपदा प्रबंधन और संबंधित जिलों के कलेक्टर राज्य की इस पूरी स्थिति में नजर बनाए हुए हैं। अपनी टीम के साथ आपदा प्रबंधन भविष्य में आने वाले खतरों को लेकर चौकन्ना हैं। पिछले तीन दिन से लगातार आ रही बारिश ने पूरे राजस्थान में जनजीवन प्रभावित किया हुआ है।

राज्य में अब तक 40.3% से ज्यादा बारिश हो चुकी है। तेज बारिश से कई इलाकों में सड़कों पानी भर जाने से आने-जाने में बाधाएं सामने आ रही हैं। वहीं मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के लिए पूरे राजस्थान में रेड अलर्ट जारी कर दिया है।