मोदी ने कहा-कांग्रेस को ना देश की एकता की चिंता ना संविधान की

New Delhi : शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के गोहाना में चुनावी सभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने इस जनसभा में कहा कि लोकसभा चुनाव में मैं आपका आशीर्वाद लेने नहीं आ पाया था, लेकिन बीजेपी को पूरी सीटें दीं। जिनको भ्रम था कि वो पूरे क्षेत्र के मालिक हैं, उनका भ्रम जनता ने तोड़ दिया।

प्रधानमंत्री ने इस रैली में कांग्रेस पर अनुच्छेद 370 को लेकर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस को ना तो भारत की एकता की चिंता है, ना ही संविधान की चिंता है। जिनको मां भारती की चिंता नहीं है, उनकी चिंता हरियाणा कर सकता है क्या? गोहाना रैली में पीएम मोदी ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में जीने वालों के लिए हरियाणा की जनता ने बहुत बड़ा सबक सिखाया है। उन्होंने कहा कि अखाड़ा चाहे कुश्ती का हो या फिर सीमा पर खड़े होने का हो, हरियाणा का नौजवान हमेशा तैयार रहता है।

उन्होंने कहा कि क्या देशहित में हमें फैसला नहीं लेना चाहिए, हरियाणा की भावना को कांग्रेस और उसके दल समझ नहीं पा रहे हैं। 5 अगस्त को क्या हुआ था, जिसकी कोई कल्पना नहीं कर सकता था। हमारी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में भारत के संविधान को लागू किया, 70 साल से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास में जो रुकावट थी उसे हमने 5 अगस्त को हटा दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि जबसे हमने ये फैसला लिया है, तभी से कांग्रेस और उसके साथियों के पेट में दर्द हो रहा है और कोई दवा काम नहीं कर रही है। कांग्रेस के पेट में दर्द उसकी लाइलाज बीमारी बन गया है, हम स्वच्छ भारत की बात करते हैं तो कांग्रेस के पेट में मरोड़ होती है, सर्जिकल स्ट्राइक, बालाकोट का नाम लेते ही कांग्रेस छटपटाने लगती है। देश को पता है कि कांग्रेस को दर्द क्यों होता है, कांग्रेस के नेताओं के बयान पाकिस्तान के काम आ रहे हैं।