ऐतिहासिक फैसला : अब शहीदों के बच्चों को पढ़ाई के लिए पैसे देगी मोदी सरकार

New Delhi : आ’तंकी या न’क्सली हमले में शही’द पुलिसकर्मियों के आश्रितों के लिए सुकून भरी खबर है। केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना का लाभ शही’द पुलिसकर्मियों, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल व असम राइफल के शही’द जवानों के आश्रितों को देने का निर्णय लिया है।

योजना के तहत लड़कियों को 2,250 रुपये प्रतिमाह दी जाने वाली छात्रवृत्ति को बढ़ाकर तीन हजार रुपये कर दिया गया है। लड़कों को प्रतिमाह दी जाने वाली दो हजार की छात्रवृत्ति बढ़ाकर 2,500 रुपये की गई है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि छात्रवृत्ति का लाभ शैक्षणिक सत्र 2019-2020 और उसके बाद आ’तंकी/न’क्सली हमलों में शही’द हुए पुलिसकर्मियों के आश्रितों को मिलेगा। योजना का लाभ राज्य सेवा के अधीन आने वाले पुलिसकर्मियों के अलावा अब आ’तंकी/न’क्सली ह’मलों में शही’द हुए केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल व असम राइफल के शही’द जवानों के आश्रितों को भी मिल सकेगा।

पात्र लाभार्थी नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (एनएसपी) के जरिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि योजना के तहत प्राप्त आवेदनपत्रों को भारत सरकार को भेजने के लिए एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जायेगी, जो पात्र आश्रितों के आवेदनों को ऑनलाइन भेजने के लिए अधिकृत होगा।