बाप को ही बच्चा चोर समझ भीड़ कभी पहुंचा रही थाने, तो कभी बांध रही खुंटे से

NEW DELHI: देश में आए दिन मॉब लिंचिंग की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं। घटनाएं इतनी बढ़ गई हैं कि लोग अब फर्जी और असली में फर्क कर पाने में धोखा खाने लगे हैं। बढ़ती घटनाओं की वजह से लोग जागरुक तो हुए हैं लेकिन शक्की भी हो गए हैं।

ऐसी ही एक वारदात सामने आई है बिहार के सारण गांव से। जहां एक पिता लोगों की नज़र में बच्चा चोर बन गया।

दरअसल युवक अपनी पत्नी से झग’ड़कर बच्चे को साथ में ले जा रहा था। रविवार की सुबह कुछ लोगों ने उसे लोकल बाजार में बच्चे के साथ खड़ा देखा, उन्हें थोड़ा शक हुआ। इससे पहले वो उससे कुछ पूछते वो बस में सवार होने लगा। साथ में कोई महिला न होने के कारण लोगों के शक को बढ़ावा मिल गया। लोगों ने उसे बच्चा चोर समझ कर दबोच लिया। वो बार – बार बच्चे को अपना बेटा बता रहा था, मगर लोग मानने को तैयार नहीं हुए।

आवाज दो हम एक हैं, हम लोगों को भी ऐसे किसी आंदोलन में हिस्सा लेना पड़ेगा।
आवाज दो हम एक हैं, हम लोगों को भी ऐसे किसी आंदोलन में हिस्सा लेना पड़ेगा।

लोगों ने इसकी खबर जल्द ही थाने में कर दी। उसे पूछताछ के लिए थाने ले जाया गया। उससे हुई बातचीत में पता चला कि वो पत्नी से झगड़कर बच्चे को साथ में ले जा रहा था। थानाध्यक्ष ने पत्नी को बुलाया और बच्चा सौंपकर मामला रफा-दफा कर दिया।

अररिया में तो सीन और खराब है। ये आपको लगभग तबरेज़ अंसारी की याद दिला देगा।

तो हुआ यूं कि एक आदमी को बच्चा चोर समझ कर लोगों ने रात भर खूंटे से बांधकर रखा। सूचना मिलते ही पुलिस उस आदमी को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ाने के लिए पहुंच गई। जल्द ही उसे वहां से निकालकर अस्पताल ले जाया गया और इलाज करवाया गया। बच्चा चोरी की अफवाहों से लोग इतना डरे हुए हैं कि किसी भी तरह का खतरा मोल नहीं लेना चाहते। इसलिए इस तरह की वारदातें सामने आ रही हैं जिसकी वजह से कई बेकसूर भीड़ का शिकार हो रहे हैं।